2 दिन में 6 बार मिलेंगे मोदी-जिनपिंग, लंच-डिनर में परोसी जाएगी गुजराती डिश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के चीन दौरे पर है. 2014 में सत्ता संभालने के बाद पीएम मोदी चौथी बार चीन के दौरे पर हैं. लेकिन, इस बार उनका दौरा बहुत खास है. 27-28 अप्रैल को पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति एक बार, दो बार नहीं, बल्कि अलग-अलग जगहों पर कुल 6 बार मिलेंगे.

दोनों नेताओं का ये दौरा अनौपचारिक है. यानी दोनों नेता 6 मुलाकातों के दौरान विभिन्न मसलों पर बात जरूर करेंगे, लेकिन इस मीटिंग में न तो कोई समझौता होगा और न ही कोई ज्वॉइंट स्टेटमेंट जारी किया जाएगा. इन मुलाकातों का मकसद यही है कि दोनों नेता एक-दूसरे के नज़रिये से वाकिफ हो सकें. चीन ने पीएम मोदी के स्वागत और खाने-पीने के लिए खास इंतजाम किए हैं.

कब और कहां मिलेंगे पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग?
पहली मुलाकात:- पीएम मोदी और शी जिनपिंग के बीच पहली मुलाकात हुवई प्रॉविंस म्यूजियम में भारतीय समयानुसार दोपहर 1 बजे (चीनी समयानुसार 3:30 बजे) होगी, जहां एक खास एक्जिबिशन आयोजित किया गया है. इस दौरान दोनों नेताओं के बीच वन-ऑन-वन (दुभाषियों की मौजूदगी में) बात होगी.

दूसरी मुलाकात:- मोदी और जिनपिंग के बीच दूसरी मुलाकात ईस्ट लेक के किनारे स्टेट गेस्ट हाउस में होगी. यह माओ के मशहूर विला के पास में ही स्थित है. इस दौरान दोनों नेताओं के बीच भारत-चीन के विभिन्न द्विपक्षीय मसलों पर बात होगी. इस दौरान दोनों नेता एक-दूसरे के विचारों से वाकिफ होंगे.

तीसरी और चौथी मुलाकात:- इसके बाद दोनों नेता दो बार और मिलेंगे, जिनमें दोनों पक्षों से 6-6 सदस्यों का डेलिगेशन भी शामिल होगा. ये दोनों मुलाकातें आज ही होनी हैं.

पांचवीं मुलाकात:- इस मुलाकात के बाद लीडर्स वॉक का वक्त रखा गया है. इसमें एक बार फिर से पीएम मोदी और जिनपिंग की मुलाकात होगी.

छठीं मुलाकात:-शिखर सम्मेलन में शिरकत कर रहे विदेशी राष्ट्राध्यक्षों और खासकर पीएम मोदी के लिए चीनी राष्ट्रपति की मेजबानी में शाम 5:00 बजे डिनर रखा गया है. इस दौरान डिनर पर छठीं बार पीएम मोदी और शी जिनपिंग की मुलाकात होगी.

किन मसलों पर हो सकती है बात?

मोदी-जिनपिंग की मुलाकात अनौपचारिक है. इसलिए इसे डेलिगेशन लेवल की बातचीत भी नहीं कहा जा सकता है. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी और शी जिनपिंग 6 मुलाकातों के दौरान दोनों देशों के विभिन्न द्विपक्षीय मसलों पर बात करेंगे. बातचीत का मुद्दा तय नहीं है. माना जा रहा है कि दोनों नेताओं के बीच आतंकवाद, डोकलाम विवाद, सीमा विवाद और एनएसजी मसले पर बात हो सकती है.

पीएम मोदी के लिए बनेगा स्पेशल गुजराती खाना

चीन ने भारतीय प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए खास इंतजाम किए हैं. पीएम मोदी शाकाहारी हैं. इसलिए उनके खाने-पीने का खास ध्यान रखा गया है. जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी को लंच और डिनर में खास गुजराती खाना परोसा जाएगा.

झील किनारे सैर और बोटिंग

शुक्रवार के कार्यक्रम के बाद पीएम मोदी और शी जिनपिंग शनिवार को झील के किनारे टहलेंगे, बोट में यात्रा करेंगे और साथ खाना खाएंगे.

मोदी के लिए प्रोटोकॉल तोड़ेंगे जिनपिंग

मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं, जिनके लिए चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अनौपचारिक शिखर बैठक तय की है. प्रोटोकॉल पर बेहद ध्यान देने वाली चीनी राजनीति में यह बहुत बड़ा अपवाद है.

चीन में पीएम मोदी का आज का शेड्यूल (भारतीय समयानुसार):-

दोपहर 1:00 से 1:30 बजे तक- पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग वुहान के हुबी प्रोविंशियल म्यूजियम का दौरा करेंगे. इस दौरान उनके बीच विभिन्न मसलों पर बात होगी.

दोपहर 3:30 से 4:00 बजे तक- ईस्ट लेक गेस्ट हाउस में पीएम मोदी और जिनपिंग की दूसरी मुलाकात.

शाम 4:00 से 4:05 बजे तक- लीडर्स वॉक

शाम 4:05 से 5:30 बजे तक- शी जिनपिंग की मेजबानी में डिनर

शाम 5:30 बजे- होटल के लिए रवाना होंगे पीएम मोदी.

चीन में पीएम मोदी का कल (शनिवार) का शेड्यूल (भारतीय समयानुसार):-

सुबह 7:20 से 8:00 बजे- ईस्ट लेक वॉक पर जाएंगे पीएम मोदी और शी जिनपिंग.

सुबह 8:00 से 9:00 बजे- ईस्ट लेक पर पीएम मोदी और जिनपिंग साथ में वोटिंग करेंगे.

सुबह 9:10 से 10:10 लेक साइड पवेलियन में जिनपिंग और मोदी लंच करेंगे.

सुबह 11:15 बजे दिल्ली के लिए रवाना होंगे पीएम मोदी

पीएम मोदी और जिनपिंग की इस मुलाकात को ‘दिल से दिल को जोड़ने वाली पहल’ करार दिया जा रहा है, जिसका मकसद दोनों देशों के कुछ बेहद विवादास्पद मुद्दों पर सहमति की राह खोजना है.

Loading...
E-Paper