शूटिंग वर्ल्ड कप में भारत का निराशाजनक प्रदर्शन

चांगवोन : ऑस्ट्रेलिया में सम्पन्न हुए कॉमन वेल्थ गेम्स में भारत के खिलाड़ियों ने उम्दा प्रदर्शन किया था.लेकिन दक्षिण कोरिया के चांगवोन में खेले जा रहे आईएसएसएफ विश्व कप में भारत के निराशाजनक प्रदर्शन से देशवासी नाखुश हैं. खेद की बात यह है कि भारत का कोई भी निशानेबाज राइफल/पिस्टल/शॉटगन की स्पर्धा के फाइनल तक नहीं पहुंच सका.

पहले बात भारतीय महिला खिलाड़ियों की. 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में हिना सिद्धू 574 के स्कोर के साथ 14वें स्थान पर रहीं,जबकि महिमा तुरही अग्रवाल और मनु भाकेर ने 571 का स्कोर किया और क्रमश: 27वें और 30 वें स्थान पर रहीं. इस प्रतिस्पर्धा में बेलारूस की विक्टोरिया चाइका ने स्वर्ण पदक जीता.जबकि पुरुषों की 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में नीरज कुमार और अनिश भानवाल का प्रदर्शन ठीक रहा.दोनों ने क्रमश: 579 और 578 का स्कोर करते हुए 13वां और 16वां स्थान पाया.मिश्रित टीम ट्रैप स्पर्धा में भारत के मानवजीत सिंह संधू और श्रेयसी सिंह फाइनल में जाने से चूक गए .दक्षिण कोरिया के जुनहोंग किम ने मेजबान देश दक्षिण कोरिया को पहला स्वर्ण पदक दिलाया.

आपको बता दें कि भारत की दूसरी टीम किनन चेनाई और सीमा तोमर की जोड़ी ने 134 का स्कोर किया लेकिन यह जोड़ी भी 21वें स्थान पर रही. भारत के लिए अभी तक इस स्पर्धा में सिर्फ एक रजत पदक शहजार रिजवी ने मंगलवार को पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में दिलाया है, अन्यथा सभी खिलाड़ियों ने निराश ही किया है.

Loading...
E-Paper