चीन में SCO समिट में सुषमा बोलीं- आतंकवाद शांति का दुश्मन

- in अन्तर्राष्ट्रीय

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज अपने चीन दौरे पर हैं. इस दौरान सुषमा स्वराज ने यहां पर SCO देशों के सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व किया. आज यहां होने वाले विदेश मंत्रियों के संबोधन में सुषमा स्वराज का संबोधित भी किया. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने चीन में एससीओ विदेश मंत्रियों की बैठक में कहा कि आतंकवाद जीवन, शांति और समृद्धि जैसे मूल मानवाधिकारों का दुश्मन है.

सुषमा स्वराज ने कहा कि संरक्षणवाद के सभी रूपों को खारिज किया जाना चाहिए. सुषमा ने यहां कहा कि आतंकवाद सबसे बड़ा मुद्दा है और सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ना चाहिए. गौरतलब है कि सुषमा ने इस दौरे पर अपने चीनी समकक्ष वांग यी से मुलाकात की. दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों पर और रिश्तों में सुधार के लिए उच्च स्तरीय संवाद की गति को तेज करने पर चर्चा की. साझा कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया गया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27-28 अप्रैल को चीन दौरे पर रहेंगे. इस दौरान पीएम मोदी की चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी मुलाकात होगी.

Loading...

सुषमा स्वराज ने कहा कि साल 2018 में चीन सतलज और ब्रह्मपुत्र नदी के डेटा भारत को उपलब्ध कराएगा. इसके अलावा भारत और चीन के बाद आतंकवाद, क्लाइमेट चेंज और ग्लोबल हेल्थकेयर जैसे अहम मुद्दों पर बातचीत हुई. सुषमा स्वराज ने बताया कि पीएम मोदी और शी जिनपिंग के बीच कई अहम मुद्दों पर बातचीत होगी और कई समझौतों को अंतिम रूप दिया जाएगा. दरअसल शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के लिए सुषमा स्वराज बीते शनिवार चार दिन के दौरे पर यहां पहुंची हैं. द्विपक्षीय मुलाकात से पहले वांग ने बीजिंग स्थित दिआयुतई स्टेट गेस्ट हाउस में सुषमा की अगवानी की.

Loading...