दो दोस्तों की मौत 

anchor——हरदोई जिले में मार्ग दुर्घटनाओं पर अंकुश नहीं लग पा रहा है आये दिन किसी न किसी के घर का चिराग इसकी भेंट चढ़ जाता है और कोई न कोई परिवार के मुखिया का साया परिजनों के सर से उठ जाता है—-दिल दहला देनी  दुर्घटनाओं पर आखिर कैसे लगेगी लगाम या ऐसे ही लोगो के घरो के चिराग बुझते रहेंगे—-सरकार इस तरफ ध्यान नहीं दे रही है —-

v.o–1—हरदोई जिले में बीती रात दो दोस्तों की मार्ग दुर्घटना में  आकस्मिक मौत हो गई—-विपिन सिंह  एक कपडे की दूकान चलता था तो दूसरा आशीष सिंह रामगढ़ एक गन्ना मिल में नौकरी – करता था—आशीष सिंह अपने दोस्त विपिन की दूकान पाए आया था जहाँ से दोनों दोस्त थाना बेनीगंज के कोथावां  इलाके में अपनी कपडे की दूकान बंद करके घर के लिए खुसी खुसी निकले थे की  कोथावां संडीला मार्ग पर  जरौवा गांव के पास   जाते समय सामने से तेज रफ़्तार आ रही इनोवा कार ने सामने से टक्कर मार दी टक्कर इतनी जोर थी की  बाइक काफी दूर जाकर गिरी और दोनों दोस्त वहीँ गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गए-और मौके पर ही दोनों दोस्तों की मौत हो गई—–चालक -इनोवा  गाडी मौके पर ही छोइ कर फरार हो गया —मौके पर पहुंचे लोगो ने पुलिस को सुचना दी और उनके परिजनों को सुचना दी–पुलिस ने आनन् फानन में दोनों को जिला  अस्पताल  भिजवाया जहाँ  डाक्टरों ने उनको मृत घोषित कर दिया —मौत की सुचना पाकर -परिजनों में कोहराम मच गया एक नहीं दो घरो के चिराग हमेसा के लिए बुझ गए—-पुलिस ने इनोवा गाडी को अपने कब्जे में ले  लिया  पुलिस गाडी के नंबर से चालक और गाडी मालिक का पता करने में जुट  गई है—— पुलिस ने -दोनों  शवों का पंचनामा भर उनको पोस्टमार्टम के लिए  भेज दिया –आज उनका पोस्टमार्टम करवाकर पुलिस ने शवों को परिजनों के सुपुर्द कर दिया —

Loading...
मृतक विपिन के भाई ने अपनी भाई और उसके दोस्त की मौत की घटना की जानकारी दी—-
-बाइट–1 —विपुल -सिंह –मृतक का भाई का भाई 
v,o–2—-अपर पुलिस  अधीक्षक -ज्ञानंजय सिंह ने दो युवको की मौत की घटना की विस्तृत जानकारी दी और इनोवा गाडी के नंबर से मालिक और चालक की जानकारी जुटाने और अग्रिम कार्यवाही करने की बात कही—-
बाइट–2 –ज्ञानंजय सिंह—–अपर पुलिस अधीक्षक हरदोई 
Loading...