दावोस सम्मेलन में ‘भारत मतलब कारोबार’ पर सर्वाधिक चर्चा

- in अन्तर्राष्ट्रीय

स्विट्जरलैंड के दावोस में हुए व‌र्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) के चार दिन के कार्यक्रमों के दौरान भारत मतलब व्यापार (इंडियामीन्सबिजनेस) सोशल मीडिया में बहस का सबसे चर्चित विषय रहा। यह जानकारी अमेरिकी एनालिटिक्स कंपनी ने दी है।

इंटरनेशनल सोशल मीडिया एनालिटिक्स कंपनी टाकवाकर ने कहा कि भारत मतलब व्यापार विषय के हैशटैग पर 39,251 बार उल्लेख किया गया। चर्चाओं की रैंकिंग में महिला पर 35,837, अमेरिका फ‌र्स्ट पर 31499, वैल्थ पर 22896, आर्टिफिशियल इंटेलीसेंज पर 19,018, ग्लोबलिज्म पर 16513, क्लाइमेट चेंज पर 15,477, फेक न्यूज पर 13,567 और ब्लॉकचेन पर 12918 बार उल्लेख किया गया।

अगर हस्तियों की बात की जाए तो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का उल्लेख सबसे ज्यादा 173,000 बार हुआ। सबसे ज्यादा चर्चाओं में रहने वाली हस्तियों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरे नंबर पर रहे। उनका उल्लेख 62,227 बार किया गया। इसके बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैकरोन (40,975), ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे (27,791), कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूड्यू (25,809, जर्मनी के राष्ट्रपति एजिला मार्केल (23,897) और बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान का 13,573 बार उल्लेख सोशल मीडिया पर किया गया।

Loading...

टाकवाकर ने कहा कि पिछले सप्ताह के दौरान दावोस का उल्लेख 22 लाख बार किया गया। पिछले साल 795,000 बार इसका उल्लेख हुआ था। सबसे ज्यादा चर्चाओं में ऑक्सफेम की संपत्ति असमानता पर रिपोर्ट रही। इसमें दुनिया भर में 82 फीसद संपत्ति दुनिया के एक फीसद अमीरों के हाथ में होने की बात कही गई थी। दूसरे नंबर के चर्चित मसले के मुकाबले इस रिपोर्ट पर दोगुनी चर्चा हुआ।

मोदी ने अपने भाषण में भारत में कारोबार को बढ़ावा देने की बात कही थी। इस पर भी काफी चर्चा हुई। क्लाइमेंट साइंस पर भरोसा करने से ट्रंप के इन्कार पर मैकरोन के मजाक भी काफी चर्चित रहा।

Loading...