Sri Lanka vs New Zealand: ऐसे धूल चटा सकती है कोलंबो में न्यूजीलैंड की टीम श्रीलंका को

Loading...

ओवल मैदान पर श्रीलंका के खराब रिकॉर्ड का फायदा उठाते हुए न्यूजीलैंड की टीम गुरुवार से यहां शुरू हो रहे दूसरे और अंतिम टेस्ट में जीत के साथ सीरीज ड्रॉ कराने के इरादे से उतरेगी। गॉल में स्पिनरों का मदद मिलती है, जबकि एसएससी का ओवल मैदान बल्लेबाजों के लिए स्वर्ग है, लेकिन ओवल में तेज गेंदबाजों के अनुकूल विकेट है।

भारतीय समयानुसार(श्रीलंका में भी यही समय होता है) श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की सीरीज का ये आखिरी मैच सुबह 10 बजे से होना था, लेकिन बारिश की वजह से शुरू नहीं हो सका है। यहां तक कि इस मुकाबले में अभी तक टॉस भी नहीं हो सका है। मौसम साफ ना होने और लगातार हो रही बारिश ने मैच में खलल डाला हुआ है। 

ओवल एशिया का एकमात्र मैदान है जहां महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन खेले हैं। श्रीलंका को इस मैदान पर अच्छे तेज गेंदबाजी आक्रमण वाली टीमों के खिलाफ जूझना पड़ा है और दूसरे टेस्ट में उसे न्यूजीलैंड के ट्रेंट बोल्ट, टिम साउथी और नील वेगनर की तिकड़ी का सामना करना होगा। पिछले 10 साल में श्रीलंका ने ओवल पर सात मैच खेले हैं, जिसमें से पांच में से हार का सामना करना पड़ा है।

न्यूजीलैंड के खिलाफ सात साल पहले इस मैदान पर श्रीलंका को हार झेलनी पड़ी थी। उस मैच में टिम साउथी ने आठ, जबकि ट्रेंट बोल्ट ने सात विकेट चटकाए थे। बायें हाथ के तेज गेंदबाज वेगनर ने न्यूजीलैंड में पिछले टेस्ट मैच में नौ विकेट चटकाए थे और वह दुर्भाग्यशाली रहे कि गॉल की स्पिन की अनुकूल पिच पर अंतिम एकादश में जगह बनाने से चूक गए।

श्रीलंका की टीम इस मैच में ऑफ स्पिनर अकिला धनंजय के बिना उतर सकती है जिनके एक्शन की गॉल टेस्ट के बाद मैच अधिकारियों ने दूसरी बार संदिग्ध होने की शिकायत की। पिछले साल नवंबर में पहली बार शिकायत होने के बाद धनंजय को अपने एक्शन में बदलाव करना पड़ा था। उन्होंने पहले मैच में एक पारी में पांच विकेट चटकाए थे। धनंजय को दूसरे टेस्ट में खेलने की स्वीकृति है।

Loading...