कुमार विश्वास से छिना प्रभार तो लिखा- पूजा का दीप नहीं डरता, षड्यंत्री आभाओं से

आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर कुमार विश्वास को झटका दिया है. विश्वास को राजस्थान के प्रभारी पद से हटा दिया गया है. इस पर कुमार विश्वास के दफ्तर की तरफ से बयान आया है. वहीं विश्वास ने दो ट्वीट किए हैं जिनमें कविता की पंक्तियों के जरिए वार किया है.

कुमार विश्वास के दफ्तर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि इस तरह से हटाए जाने का साफ़-साफ़ मतलब है कि पार्टी ने कुमार विश्वास को राजस्थान प्रभार किसी राजनीतिक रणनीति के तहत नहीं दिया था, बल्कि उस समय अमानतुल्लाह प्रकरण पर षड्यंत्र के पर्दाफाश और कार्यकर्ताओं की नाराज़गी के डर से बचने के लिए मजबूरन यह फैसला लिया गया था.

बयान में कहा गया कि हमें मीडिया की तरफ से माध्यम से सूचना मिली कि डॉ कुमार विश्वास को राजस्थान प्रभारी पद से भारमुक्त कर दिया गया है. पार्टी की तरफ से इस विषय में कोई सूचना नहीं दी गई है, पार्टी के बयान में यह भी कहा गया है कि PAC की लंबी बैठक के बाद यह फैसला लिया गया.

Loading...

दफ्तर के बयान में कहा गया है कि ऐसी किसी भी PAC की सूचना कुमार विश्वास को नहीं मिली, जबकि वो PAC सदस्य हैं. यदि PAC के एक सदस्य को सूचना ही नहीं है तो PAC का कोरम कैसे पूरा हुआ? दफ्तर के बयान के अलावा कुमार विश्वास ने भी इस फैसले के आने के बाद ट्वीट किया. विश्वास ने दो ट्वीट किए जिनमें कविताओं की पंक्तियों को ट्वीट किया.

पार्टी ने क्या कहा?

आम आदमी पार्टी ने कहा कि पार्टी ने पिछले दिनों दीपक वाजपेयी को राजस्थान का दौरा करने के लिए भेजा था. अब वो वहीं रहते हैं और पूरे राज्य का दौरा कर चुके हैं. जिसके बाद उन्हें राज्य की जिम्मेदारी दी जा रही है. आपको बता दें कि कुमार विश्वास से अब राजस्थान के प्रभारी का पद वापस ले लिया गया है. आम आदमी पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी (PAC) ने विश्वास को हटाकर दीपक वाजपेयी को राजस्थान का नया प्रभारी बनाया है.

Loading...