मुलायम सिंह की कोठी के सामने फिर धंसी सड़क, इस वजह से शुरू नही हो पाया है काम

- in उत्तरप्रदेश
खतरनाक हो चुका वीपीआईपी विक्रमादित्य मार्ग बृहस्पतिवार को तीसरी बार धंस गया। पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की कोठी के सामने दूसरी बार सड़क धंसने से गहरा गड्ढा हो गया है। गनीमत रही कि इस बार कोई जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। बीते साल सड़क धंसने से एक बच्ची और एक युवती गड्ढे में गिरकर घायल हो गए थे। फिलहाल सड़क में हुए गड्ढे को बेरिडिंग से घेर दिया गया है।

 

विक्रमादित्य मार्ग पर अंग्रेजों के समय जमीन के 30 फीट नीचे अंडरग्राउंड आर्च नाला बनाया गया था। पुराना होने के कारण बीते एक साल में यह बृहस्पतिवार को तीसरी बार धंसा है। पिछले साल भी पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव के आवास पांच विक्रमादित्य मार्ग के सामने सड़क का बड़ा हिस्सा और उससे कुछ आगे कैबिनेटगंज में एक व्यक्ति के घर के अंदर की फर्श धंस गई थी। उसके बाद दोबारा कैबिनेटगंज मोहल्ले में सड़क धंसने से एक मासूम बच्ची और युवती गड्ढे में गिरकर घायल हो गई थी। इसके बावजूद प्रशासन ने नाले की जगह नई सीवर लाइन बिछाने का काम अब तक शुरू नहीं कराया है।

Loading...

एक साल से बजट का इंतजार
वीवीआईपी विक्रमादित्य मार्ग पर नई सीवर लाइन बिछाने का काम बजट के अभाव में शुरू नहीं हो पा रहा है। यहां पर नई सीवर लाइन डालने के लिए अमृत योजना में करीब 32 करोड़ रुपये लागत का प्रोजेक्ट बना है, लेकिन यह अभी पास नहीं हो पाया है। खतरे को देखते हुए जल निगम ने पूर्व मुख्यमंत्री के आवास के सामने जाने वाली मेन रोड को सुरक्षित करने के लिए करीब दस करोड़ का प्रोजेक्ट बनाया था, लेकिन इसका पैसा भी नहीं मिला।

लोक निर्माण विभाग ने जताया खतरा

लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता जय सिंह ने नगर आयुक्त को पत्र लिखकर तत्काल मरम्मत कराने को कहा है। पत्र में अधिशासी अभियंता ने लिखा है कि विक्रमादित्य मार्ग पर बार-बार सड़क धंसने से सुरक्षित यातायात पर खतरा मंडरा रहा है।
 
 
Loading...