असम में पुलिस की तरफ से की गई गोलीबारी में 2 की मौत हो गई है वहीं 10 अन्य के घायल होने की खबर है। बताया जा रहा है कि असम के ग्रेटर नागालिम में दीमा हसाओ जिले को शामिल करने के विरोध में कुछ लोग व्यापक स्तर पर प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए उन पर गोली चला दी जिनमें दो लोगों की मौत हो गई वहीं 10 अन्य घायल हो गए हैं।

असम के डीजीपी मुकेश सहाय ने इस खबर की पुष्टि की है। जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार को मैंबोंग में जब कुछ प्रदर्शनकारियो ने रेलवे स्टेशन को जाम कर दिया उसी दौरान ये घटना हुई। स्थानीय रिपोर्ट के अनुसार, प्रदर्शनकारियों ने 12 घंटे का दीमा हसाओ बंद का आह्वान किया था।

Loading...

प्रदर्शनकारियों ने नई दिल्ली और नागालैंड के राष्ट्रीय समाजवादी परिषद (एनएससीएन) के बीच शांति वार्ता के तहत जिले में सैटेलाइट परिषद की स्थापना के लिए केंद्र सरकार की रिपोर्ट के विरोध के विरोध में 12 घंटे का “दिमा हसाओ बंद का आह्वान किया था।

 बता दें कि प्रदर्शन और हिंसा की आशंका को देखते हुए गुरुवार से ही असम के दिमा हसाओ के माइबोंग में अनिश्चितकाल के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया है। जानकारी के मुताबिक बंद के कारण ट्रेन पर हमला करने वाली उग्र भीड़ और पुलिस के बीच हुए संघर्ष के बाद पुलिस अधिकारियों को मजबूरन  फायरिंग करनी पड़ी। जिसमें दो लोगों की मौत हो गई। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक गोली लगने के बाद गुवाहाटी में अस्पताल ले जाते समय एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई, वहीं दूसरे व्यक्ति ने शनिवार सुबह अस्पताल में दम तोड़ दिया। 

 
Loading...
E-Paper