मोसुल रवाना हुए वीके सिंह, 38 शवों के साथ कल लौट सकते हैं भारत

इराक में मारे गए भारतीयों के शव लेने विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह मोसुल रवाना हो गए हैं. वीके सिंह भारतीय वायुसेना के विशेष विमान से मोसुल गए. विशेष विमान ने गाजियाबाद से हिंडन एयरबेस से उड़ान भरी. रवाना होने से पहले विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने बताया, ‘मैं 38 भारतीयों के अवशेष लेने मोसुल जा रहा हूं. हमें 39वें शख्स का शव नहीं मिलेगा, क्योंकि उसका केस अभी फाइनल नहीं हो पाया है. हम सबूतों के साथ परिवार को शव सौंपेंगे, ताकि उनका शक दूर हो सके.’

इराक के रक्षा मंत्रालय से लैंडिग के लिए ग्रीन सिग्नल न मिलने के चलते वीके सिंह देरी से जा पाए. वो लगातार इराकी प्रशासन से संपर्क में थे और अनुमति मिलते ही विशेष विमान से मोसुल के लिए रवाना हो गए. वीके सिंह भारतीय वायुसेना के विशेष विमान सी-17 से गए हैं. तय कार्यक्रम के मुताबिक, वीके सिंह शवों के साथ 2 अप्रैल को वापस भारत लौटेंगे. वतन लौटकर वीके सिंह सबसे पहले पंजाब के अमृतसर जाएंगे और परिवारों को अवशेष सौंपेंगे. इसके बाद पटना और कोलकाता जाकर परिवारों को शव सौंपे जाएंगे. 

20 मार्च को सुषमा ने दिया था बयान

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 20 मार्च को राज्यसभा में बताया था जून 2014 में मोसुल से लापता हुए भारतीयों का डीप पेनिट्रेशन रडार के जरिए पता लग गया है. उन्होंने बताया कि शवों को देखा गया था. जिसके बाद अवशेष बाहर निकालकर डीएनए मैच के लिए भेजा गया. सुषमा ने बताया था कि 38 शवों के डीएनए पूरे तरीके से मैच हो गए थे, जबकि 39वें शव का 70 फीसदी डीएनए मैच हुआ.

Loading...

जिससे ये साबित होता है कि मोसुल में अगवा किए गए 39 भारतीयों की मौत हो चुकी है. हालांकि, वीके सिंह फिलहाल 38 भारतीयों के अवशेष ही ला पाएंगे. उन्होंने मोसुल रवाना होने से पहले खुद इस बात की जानकारी दी है. वीके सिंह ने बताया कि बाकी बचे एक शव की अभी जांच पूरी नहीं हो पाई है, इसलिए अभी 38 शव ही वापस आएंगे.

Loading...
E-Paper