एएमयू में एमबीए का पेपर आउट करने वाले सॉल्वर गैंग के 4 सदस्य पुलिस ने पकड़े।

Loading...

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की एमबीए प्रवेश परीक्षा का पेपर रविवार को परीक्षा शुरू होने के साथ ही आउट हो गया और उसके प्रश्नों के उत्तरों की पर्चियां भी केंद्र के अंदर पहुंच गईं। जब यह जानकारी ड्यूटी में लगे स्टाफ को लगी तो एएमयू इंतजामिया में खलबली मच गई। तुरंत पुलिस की मदद ली गई। पुलिस ने खोजबीन करते हुए देर रात्रि इस रैकेट के सरगना बसपा नेता फिरोज आलम उर्फ़ राजा सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ़्तार बसपा नेता फ़िरोज़ आलम उर्फ़ राजा अलीगढ़ मेयर मो. फुरकान का करीबी है। इसके साथ ही गिरफ्तार किए गए लोगों में एक पूर्व छात्र और दो एएमयू कर्मी शामिल हैं। एसएसपी ने बताया की एएमयू के दो कर्मी परीक्षा कक्ष से एब्सेंट छात्र का पेपर बाहर ले जाकर दूसरे साथियों को देते थे जिसे वह एक बिल्डिंग में बैठकर सॉल्व करने के बाद उनके आंसर एक व्हाट्सग्रुप में डाल देते थे।

 

 

वी/ओ–1–एएमयू पेपर आउट मामले में जानकारी देते हुए एसएसपी ने बताया कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से पेपर आउट संबंधी मामले की जानकारी के साथ ही शिकायत मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए पेपर सॉल्वर गैंग के 4 सदस्यों को मय गैंग सरगना फ़िरोज़ आलम उर्फ़ राजा के साथ गिरफ़्तार किया है। एसएसपी ने बताया कि पेपर आउट कराने के मामले में एएमयू के ही दो कर्मी शामिल रहते थे जो परीक्षा कक्ष में जाकर एब्सेंट छात्र का पेपर बाहर ले जाकर मुख्य सरगना फ़िरोज़ आलम उर्फ राजा को दे देते थे। जिसे वह अपने और साथियों की मदद से एक बिल्डिंग में बैठकर सॉल्व करते थे। उसके आंसर एंट्रेंस नाम के व्हाट्सग्रुप पर पोस्ट कर दिए जाते थे। इस मामले में अभी 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। 4 और अभियुक्त अभी शेष हैं जिनकी तलाश की जा रही है। पकड़े गए अभियुक्तों के पास से 5 मोबाइल फोन के साथ ही एएमयू का ओरिजिनल प्रश्न पत्र,आंसर शीट व 23,316₹ बरामद किए हैं। एक सफ़ारी कार भी कस्टडी में ली गई है जिस पर बसपा का झंडा लगा हुआ है।

वी/ओ–2–यूनिवर्सिटी से पेपर आउट मामले पर एएमयू के जनसंपर्क अधिकारी ने कहा कि ये मामला बहुत ही गंभीर मामला है। इस प्रकार की खबरें आने यूनिवर्सिटी की इमेज पर निश्चित ही इसका असर पड़ता है। प्रवेश परीक्षा वाले दिन परीक्षा कक्ष से एक क्वेश्चन बुक गायब होने की सूचना पर तत्काल उस समय परीक्षा कक्ष में मौजूद स्टाफ ने एएमयू प्रॉक्टर व मुख्य परीक्षा नियंत्रक को इस बाबत सूचना दी थी। जिसके बाद एएमयू की ओर से एफआईआर दर्ज़ कराई गई थी। अब जानकारी मिल रही है कि 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एएमयू ने भी अंदरूनी रूप से एक इन्क्वारी गठित कर दी है। जो जांच करने के बाद अपनी रिपोर्ट प्रेषित करेगी। उसके आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

Loading...