करें देसी इलाज – बार-बार पेशाब जाना भी हो सकता है बीमारी का कारण….

Loading...

बहुत से लोगों को अक्सर बार-बार पेशाब या अत्यधिक पेशाब आने की समस्या होती है. यह एक गंभीर परेशानी है जिससे आपको निजात पाना भी जरुरी होता है. बता दें, यह समस्या ब्लैडर के अति सक्रिय होने, मधुमेह, गर्भावस्था, मेनोपौज, नर्व डैमेज, मोटापा, बुढ़ापा आदि कारणों की वजह से हो सकती है. यदि बार-बार पेशाब आने के साथ पेशाब करते वक्त दर्द, पेशाब में रक्त, यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन आदि समस्याएं हो रही हैं तो यह चिंता का विषय है. डॉक्टर से सम्पर्क के अलावा आप कुछ कुछ घरेलू उपचार भी कर सकते हैं.

 

 

गर्म पानी से सिंकाई
गर्म पानी से सिंकाई करने से नसों और मांसपेशियों को राहत मिलती है. यह दर्द को कम करता है और लगातार पेशाब आने की समस्या को रोकता है.

दही
दही में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो ब्लैडर को स्वस्थ रखने में मदद करता है. यह ब्लैडर और किडनी को ठीक से काम करने में मदद करता है. दही का हर रोज सेवन करें. फ्लेवर्ड दही ना खाएं.

आंवला
स्वस्थ और फिट रहने के लिए, आंवले का सेवन करें. इसमें विटामिन सी होता है जौ ब्लैडर इंफेक्शन को कम करता है. थोड़ा आमला जूस लें और इसमें कुछ शहद मिलाएं. इस मिश्रण को केले के साथ हर रोज सेवन करें.

पानी का सेवन बंद ना करें
बहुत से लोग सोचते हैं कि पानी का सेवन या तरल पदार्थों का सेवन कम करने से बार-बार पेशाब आने की समस्या कम हो जाएगी. लेकिन ऐसा सच नहीं है. छोटे कप और कम मात्रा में पानी पिएं लेकिन दिन भर पिएं. हालांकि, सोने से पहले पानी ना पिएं.

Loading...