गुलबर्गा लोकसभा सीट: कांग्रेस के गढ़ में मल्लिकार्जुन खड़गे की प्रतिष्ठा दांव पर!

Loading...

लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) के तीसरे चरण में 23 अप्रैल को कर्नाटक की गुलबर्गा लोकसभा सीट पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ. गुलबर्गा लोकसभा सीट पर 59.70 % जबकि पूरे कर्नाटक में 68.15 फीसदी मतदान हुआ. गुलबर्गा लोकसभा सीट से बीजेपी की तरफ से डॉ. उमंग जी जाधव, कांग्रेस की तरफ से मल्लिकार्जुन खड़गे, बीएसपी की तरफ से केबी वासु समेत कई अन्य लोग चुनाव मैदान में हैं. इस सीट पर कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे सांसद हैं. गुलबर्गा सीट अनुसूचित जाति (SC) के लिए आरक्षित है. इस सीट पर अधिकतर समय कांग्रेस का ही कब्जा रहा है. पहले इस शहर को कलबुर्गी के नाम से जाना जाता था लेकिन इसका नाम बदलकर गुलबर्गा कर दिया गया.

 कुल 17 चुनावों में 15 बार कांग्रेस को इस सीट से जीत मिली है 
2014 के लोकसभा चुनाव में इस सीट से कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे ने बीजेपी के रेवुनायक बेलामागी 74,733 वोटों से हराया था. इस सीट पर अब तक हुए कुल 17 चुनावों में 15 बार कांग्रेस को यहां से जीत मिली है जबकि 2 बार अन्य दल के प्रत्याशी ने जीत हासिल की है. गुलबर्गा लोकसभा सीट से राज्य के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता धरम सिंह भी सांसद रह चुके हैं.

 1998 में इस सीट पर बीजेपी का खिला कमल 
1996 में पहली बार किसी गैर कांग्रेसी नेता ने यहां से जीत दर्ज की थी. बीजेपी ने पहली बार 1998 में इस सीट पर जीत दर्ज की थी. 2009 और 2014 के चुनाव में कांग्रेस की तरफ से मल्लिकार्जुन खड़गे लगातार 2 बार सांसद बने. इस पर मल्लिकार्जुन खड़गे की प्रतिष्ठा दांव पर है.

 कर्नाटक में कुल 28 लोकसभा सीटें हैं
आपको बता दें कि कर्नाटक में कुल 28 लोकसभा सीटें हैं जिनमें से 15 सीटें बीजेपी के पास हैं. इसके अलावा राज्य की 10 सीटों पर कांग्रेस और 2 सीटों पर जेडीएस का कब्जा है. कर्नाटक विधानसभा में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार है.

Loading...