श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 250 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी

Loading...

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने शनिवार को कहा कि वह देश में आतंकवाद को कुचलने और ईस्टर संडे पर किये गए बम धमाकों के जिम्मेदार लोगों को न्याय के कटघरे में लाने तक इस्तीफा नहीं देंगे और न ही चैन से बैठेंगे.

श्रीलंका में 21 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में 250 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने ली थी, लेकिन सरकार ने इसके लिये स्थानीय इस्लामिक चरमपंथी समूह नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) को जिम्मेदार ठहराया था.

पूर्वी जिले अंपारा में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में सिरिसेना ने कहा कि ईस्टर संडे धमाकों के बाद उन्होंने सुरक्षा प्रतिष्ठान में फेरबदल करते हुए पुलिस प्रमुख को निलंबित कर दिया और रक्षा मंत्रालय में नया सचिव नियुक्त किया.

श्रीलंका ने एनटीजे को प्रतिबंध लगाकर धमाकों के संबंध में 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है. 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सिरिसेना ने कहा, ‘मैं न इस्तीफा दूंगा, न घर जाऊंगा और न ही डरूंगा. मैं तब तक चैन से नहीं बैठने वाला जब तक आतंकवाद का खात्मा न कर दूं’.

Loading...