अमेरिकी सेना का मानना है कि क्रूज मिसाइलों को छोटी ईरानी नौकाओं से लॉन्च किया जा सकता है

Loading...

अमेरिका के रक्षा विभाग ने शुक्रवार को घोषणा की ईरान से कथित खतरे का मुकाबला करने के लिए वह पश्चिम एशिया में एक युद्धपोत और पैट्रियाट मिसाइलों की तैनाती कर रहा है. जानकारी के मुताबिक यह आयुध पहले भेजे जा चुके विमानवाहक पोत की मदद करेगा.

पेंटागन ने एक बयान में कहा, ‘‘अमेरिकी बलों और हमारे हितों के खिलाफ अभियान चलाने की ईरान की व्यापक तैयारियों के संकेतों के बीच जवाबी कार्रवाई के लिए यह हथियार प्रणाली पश्चिम एशिया में यूएसएस अब्राहम लिंकन कैरियर स्ट्राइक ग्रुप और अमेरिकी वायुसेना बमवर्षक कार्यबल की मदद करेगी.’’

वहीं सीएनएन के रिपोर्ट के अनुसार, खुफिया सूत्रों से पता चला है कि ईरान संभवत: कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल और क्रूज मिसाइलों को नावों पर फारस की खाड़ी में भेज रहा है. अमेरिकी सेना का मानना है कि क्रूज मिसाइलों को छोटी ईरानी नौकाओं से लॉन्च किया जा सकता है, जिन्हें dhows  के नाम से जाना जाता है. अधिकारियों ने कहा है कि वे नावें IRGC नौसेना की संपत्ति हैं, न कि ईरानी नौसेना की नावें.

Loading...