पिता को दिया इंटरव्यू, इस भारतीय क्रिकेटर का फैन है वॉटसन का बेटा…

Loading...

वॉटसन ने कहा, मैं स्टीफन फ्लेमिंग और एम एस धोनी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझ पर भरोसा रखा. यदि मैं इस तरह से इतने मैचों में रन नहीं बना पाता तो पिछली टीम में काफी पहले बाहर कर दिया गया होता.

लंबे समय से खराब फॉर्म में चल रहे शेन वॉटसन ने आखिरकार फॉर्म में वापसी के लिए महेंद्र सिंह धोनी और स्टीफन फ्लेमिंग को धन्यवाद देते हुए कहा कि पिछली टीम में तो उन्हें काफी पहले बाहर कर दिया गया होता

वॉटसन ने आईपीएल के मौजूदा सत्र में पहली दस पारियों में एक भी अर्धशतक नहीं लगाया लेकिन सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मंगलवार को 53 गेंद में 96 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई.

वॉटसन ने मैच के बाद कहा,‘मैं स्टीफन फ्लेमिंग और एम एस धोनी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझ पर भरोसा रखा. यदि मैं इस तरह से इतने मैचों में रन नहीं बना पाता तो पिछली टीम में काफी पहले बाहर कर दिया गया होता.’

धोनी की रॉकेट स्टंपिंग, सेकेंडों में चित हुए वॉर्नर

उन्होंने कहा, ‘स्टीफन फ्लेमिंग और एस एस धोनी ने मुझ पर भरोसा रखा जो अद्भुत था. मैं पीएसएल से यहां आया हूं और फिर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका. मैने लय खो दी थी.’ उन्होंने कहा ,‘ऐसे में उन्होंने मुझ पर भरोसा रखा और ऐसे में किस्मत का भी साथ जरूरी होता है.’

इतना ही नहीं मैच के बाद वॉटसन ने अपने बेटे विलियम वॉटसन का इंटरव्यू लिया. इस इंटरव्यू में शेन वॉटसन ने विलियम वॉटसन से जब पूछा कि तुम्हारा फेवरेट प्लेयर कौन है तो जूनियर वॉटसन ने कहा, ‘आप’. इस पर शेन ने पूछा कि तुम्हारा कोई और फेवरेट खिलाड़ी है क्या. यहां विलियम ने कहा, ‘धोनी’ जब शेन ने पूछा कि क्या धोनी छक्के लगाते हैं तब विलियम ने कहा ‘ऑल द टाइम (हमेशा)’.

अफगानिस्तान के स्पिनर राशिद खान को भले ही शेन वॉटसन ने काफी शॉट्स लगाए हों लेकिन उन्होंने कहा कि इस प्रारूप में वह सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों में से है. उन्होंने सनराइजर्स के सलामी बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर की भी तारीफ की.  उन्होंने कहा, ‘पिछले चार पांच साल से वह हमेशा ऐसे ही रन बना रहा है. वह बेजोड़ खिलाड़ी है.’

Loading...