कर्ज में डूबे किसान ने की आत्महत्या

- in उत्तरप्रदेश
एंकर–मोदी व योगी सरकार के कर्जमाफी के दावे हुए फेल —–हरदोई जनपद कर्ज में डूबे एक किसान ने मौत को गले लगा लिया— क्योकि उसके घर आये दिन बैंक वाले कर्ज चुकाने का दबाव बना रहै थे।—दूसरी ओर तीन जवान बेटियों के हाथ भी पिले करने थे आखिर ये गरीब किसान कैसे करता तो क्या करता—इस असमंजस ने उसे मौत का रास्ता दिखा दिया— 
और आखिर सरकार परिवार व बैंक द्वारा हर तरफ से चले हुए इस गरीब ने आत्म हत्त्या कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।
हरदोई जिले के थाना टडियावा क्षेत्र के अंतर्गत गुलरी पुरवा में कर्ज में डूब कर किसान ने की आत्महत्या —- केसीसी लोन इलाहाबाद बैंक स्टेशन ब्रांच से पैसा लिया था —-किसान रामखेलावन सन पुत्र मथुरा प्रसाद जिसके घर की पारिवारिक स्थिति काफी दयनीय थी—– श्बच्चों का भरण पोषण ना कर पाने के कारण आज आत्महत्या कर ली ——सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा परिवार वालों ने बताया की इनके चाचा गुलाब पर भी कल से 4:30 लाख रुपया है कॉर्पोरेशन बैंक नघेटा रोड स्थिति ब्रांच ——किसान की मौत के कारणों की जानकारी उसके परिवारीजनों ने दी। व सरकार और बैंक दोनो के प्रति आक्रोश व्यक्त किया।

V/o—1–वहीं दूसरी ओर जिले के अपरजिलाधिकारी ने किसान की मौत पर शोक व्यक्तकिया व मदद का भरोसा देते हुए बैंक कर्मियों के विरुद्ध कार्यवाही की बात कही -–सुनिये एडीएम साहब की जुबानी।

Loading...