मुंबई: कर्ज से परेशान व्यक्ति पर खून सवार, पत्नी-बच्चों पर चाकू से हमला

- in प्रदेश

मुंबई के गोरेगांव (पश्चिम) से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक आदमी ने अपनी पत्नी और तीन बच्चों पर चाकुओं से हमला कर उन्हें जान से मारने की कोशिश की. पड़ोसियों ने पत्नी और बच्चों को पिता के हमले से बचाया. आरोपी व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 के तहत हत्या की कोशिश तथा धारा 326 के तहत जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कर लिया है. इसके बाद आरोपी को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जहां से उसे पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.

बताया जा रहा है कि व्यापार में लगातार हो रहे घाटे और कर्ज न चुका पाने के चलते आरोपी बेहद परेशान चल रहा था और इस करण गुस्से में आकर उसने यह कदम उठाया. पुलिस ने बताया कि 48 वर्षीय आरोपी मलाड (पूर्व) के पठानवाड़ी  इलाके में एक लाटरी शॉप चलाता है.

लेकिन पिछले कुछ समय में उसे लाखों का नुकसान हो गया, जिसकी भरपाई के लिए उसने बहुत सारा कर्ज भी ले लिया. लेकिन लगातार हो रहे घाटे के चलते अब वह ऐसी स्थिति में नहीं था कि कर्ज चुका सके.

बीते मंगलवार की रात नशे की हालत में करीब 11:30 बजे रात में वह अपने घर पहुंचा और घर आकर सो गया. तकरीबन रात 1:30 बजे आरोपी पर जैसे खून सवार हो गया. वह अपने बिस्तर से उठा और बगल में सो रही पत्नी पर चाकू से हमला कर दिया.

Loading...

saपत्नी पर चाकू से कई वार करने के बाद वह भाग कर हॉल में पहुंचा, जहां उसके तीनों  बच्चे सो रहे थे. उसने अपने 16 साल के बेटे और 20 साल से ऊपर की दोनों बेटियों पर भी चाकू से जानलेवा हमला कर दिया. आरोपी ने पत्नी और बच्चों के सिर पर चाकू से तीन से चार वार किए.

इसी बीच किसी तरह उसकी एक बेटी वहां से बचकर बाहर भाग गई और उसने शोर मचाकर पड़ोसियों को इकट्ठा कर लिया. पड़ोसियों ने किसी तरह आरोपी को काबू में लिया. इसके बाद पड़ोसियों ने ही घायल महिला और बच्चों को नज़दीक के अस्पताल पहुंचाया और पूरी घटना की खबर पुलिस को दी.

अस्पताल में इलाज के बाद आरोपी की दोनों बेटियां खतरे से बाहर बताई जा रही हैं, लेकिन उसकी पत्नी और बेटा गंभीर चोटों से जूझ रहे हैं और उनकी स्थिति अभी भी नाज़ुक बनी हुई है. गोरेगांव पुलिस ने बताया कि आरोपी के खिलाफ कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है.

Loading...