महंगे शौक ने बना दिया लुटेरा, मां-बाप को ही लूटा

- in उत्तरप्रदेश

बुरे शौक और गन्दी आदते किस तरह इंसान को क्या क्या करने पर मजबूर कर देती है इसकी वानगी देखने को मिली हरदोई में जहाँ ,ऐशो आराम के लिए एक पुत्र ने दोस्तों के साथ मिलकर माता-पिता को ही लूट लिया। संडीला में भट्ठा व्यवसायी के घर हुई दिन दहाड़े लूट की घटना में यही हकीकत सामने आई है। पुलिस ने लड़के और उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

मामला कोतवाली सण्डीला इलाके के कस्बे का है जहाँ मुहल्ला महतवाना निवासी भट्ठा व्यवसायी राजकिशोर के घर पर 24 फरवरी को दिन दहाड़े उनकी पत्नी गुंजा को बंधक बनाकर साढ़े चार लाख रुपये और सोने के जेवर लूट लिए गए थे। दिनदहाड़े हुई इस लूट से पुलिस के हाथ पैर फूल गए , हांलकि पुलिस मामले को खोलने के अथक प्रयास में थी और उसे कामयाबी भी मिली, घटना के बाद से ही पीड़ित के बेटे की गतिविधियां संदिग्ध थी जिस पर पुलिस नज़र बनाये थे और आखिरकार आशंका सच साबित निकली और उसके बेटे शिवम ने ही अपने साथी कस्बे के ही मुहल्ला मंडई निवासी पवन कश्यप, विमलेश और एक अन्य जो कि नाबालिग है उसके साथ पूरी घटना को अंजाम दिया था।

दरअसल  शिवम स्टंट का शौकीन है वह महंगी बाइक लेना चाहता था। लखनऊ में एक लड़की से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसे महंगा मोबाइल भी देना था। शिवम की मां का निधन हो चुका है। गुंजा उसकी सौतेली मां है, शिवम ने अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए दोस्तों के साथ उसने पूरी कहानी बनाई और फिर घटना को अंजाम दिया था। वारदात के बाद हाथ आये साढ़े 4 लाख रुपयो में दो लाख रुपये उसने  दोस्तों में बांट दिए थे और फिर एक लाख 20 हजार रुपये की नई बाइक केटीएम खरीदी। 30 हजार रुपये का प्रेमिका को मोबाइल खरीद कर दिया। 10 हजार रुपये के कपड़े लिए और जेवर छिपाकर रखने के बाद होटलों में रुका।

Loading...

एसपी ने बताया कि शिवम का ये कांड पहला नही है बल्कि इसके पहले भी वह रुपयों की खातिर अपने पिता पर चाकू से हमला कर चुका था। जिसकी एफआइआर दर्ज कराई गई थी। आरोपी शिवम और पवन को जेल भेजा गया है, जबकि उसके नाबालिग मास्टर माइंड को बाल संरक्षण गृह भेजा गया है। पुलिस अधीक्षक ने बुधवार को खुलासा करते हुए टीम को 10 हजार रुपये का इनाम दिया है।

मां को लूटने के बाद आरोपी प्रेमिका के साथ घूमता फिरता रहा सारे ऐश होते रहे लेकिन फिर वो पुलिस की चुंगल में फंस गया , दरअसल साजिश के अनुसार शिवम के दोस्त घर में घुसे थे। शिवम पीछे से नाटक करते हुए घर मे दाखिल हुआ  और मां को बाथरूम में बंद कर दिया था। घटना को अंजाम देने के बाद पैसे के बंटवारे कर वह लखनऊ चला गया और प्रेमिका से मिला फिर बाइक खरीदने के बाद दोनों साथ घूमे। रुपया खर्च कर वह जेवर बेचकर ऐशो आराम करता लेकिन उससे पहले पुलिस ने पकड़ लिया।

Loading...