शक्तिभवन के बड़ेबाबू के चहेते मध्याचल के MD पत्रकारों के सवालों के जबाब पर जनाब के बोल बिगड़े:NKB

लखनऊ 20 मार्च मध्याचल विद्युत वितरण निगम मे व्याप्त भ्रष्टाचार के सम्बन्ध मे एक वरिष्ठ पत्रकार के सवालों का जबाब देते वक्त जनाब मध्याचल विद्युत वितरण निगम के MD अरूण प्रताप सिंह महोदय की जबान फिसल गई सवालो से घिरे प्रबन्ध निदेशक अपनी योग्यता का परिचय अपने चपरासी को बुलाकर मिलने वाले मुलाकातियों की पर्ची की गिनती से अंदर आने की नसीहत सीखना यानी भ्रष्टाचार के विरुद्ध जबाब देने से अपना दामन बचाने का सुनियोजित नाटक खेलने की योजना तैयार कर डाली जो एक प्रबन्ध निदेशक के पद की गरिमा के अनरूप नही हो सकता है पर इनका यह ड्रामा स्वाभाविक था या नाटक वैसे जनाब ने अपने आस पास चाटुकारो की फौज अपने आस पास तैनात कर रखी है ताकि केन्द्रीय योजनाओ के जरिए मिला धन अपने अधीनस्थ चाटुकारो के साथ मिलकर डकारा जाये। वैसे भी जनाब शक्तिभवन के बड़का बाबू के दुलारे जो है ।

संस्कार और नियम कानून की धमकी नही चलेगी MD साहब हमारी कलम भ्रष्टाचार के विरुद्ध चली है और चलती रहेगी
जनाब आप अपनी स्वयं की पड़ताल मजबूत करीये हमने और हमारे सहयोगियों ने कई अरब पति प्रबन्ध निदेशको को भ्रष्टाचार के गलियारों से घसीट कर सरकारों और जनता के सामने नंगा खड़ा किया है और आज आप लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को जबाब देने के बजाय अपने पद का दुरुपयोग कर हमारी कलम को रोकने की कोशिश कर रहे है तो समझ लीजिए जनाब हमारी कलम के जीते-जी रुकने वाली नही है अभी तो हमारी टीम द्वारा आपकी पहली डायग्नोसेस किया गया है अब हम आगे आपके पूरे भ्रष्टाचार की MRI करने की मजबूत तैयारी कर रहे है आखिर हमे तो भ्रष्टाचारी कीडा ढूँढना है ताकी आप द्वारा केन्द्रीय योजना मे लूट करने वाले अधिकारियों और आपके भ्रष्टाचार का DNA कर के उसका यथासंभव ईलाज किये बिना हमारी कलम रुकने वाली नही है ।

Loading...
E-Paper