बीएसए ने ली क्लास बच्चे  पास टीचर हुई फेल

-बीएसए के सवालों का जबाब नही दे पायी शिक्षिकाएं
-बीएसए ने वेतन रोकने की कार्यवाही
एंकर-आज उस समय नगर क्षेत्र के विघायलो में हड़कंप मच गया। जब पता चला कि बेसिक शिक्षा अधिकारी नगर क्षेत्र के सरकारी विघायलो का औचक निरीक्षण कर रहे है।जिसके बाद बीएसए ने हरदेवगंज स्थित जूनियर व प्राइमरी विघायल पहुचकर बच्चो की क्लास ली जिसमे बच्चे तो पास हो गए मगर दो शिक्षिकाएं बीएसए के प्रश्नों का उत्तर नही दे सकी,बीएसए ने दोनों को कड़ी फटकार लगाते हुए उनके वेतन रोकने की कार्यवाही की,पेपर दे रहे बच्चो से भी बीएसए ने कई प्रश्न पूछे जिनका जबाब सही पाकर बीएसए ने काफी प्रशंसा की।
वीओ—1–हरदोई बीएसए मज्जिहुज्जमा सिद्दीकी ने नगर क्षेत्र में स्थित हरदेवगंज प्राइमरी व जूनियर विघायल पहुँचकर औचक निरीक्षण किया।जिसमें खामिया मिलने पर बीएसए ने टीचरों को कड़ी फटकार लगयी।और जल्द से जल्द सुधार की बात कही।
वीओ—02—जब बीएसए मज्जिहुज्जमा सिद्दीकी ने सराय थोक जूनियर हाईस्कूल विघायल का निरीक्षक करते हुए।वह मौजूद इंचार्ज रेनू शुक्ला से और अंजलि द्विवेदी से प्रश्न पूछे तो दोनों शिक्षिकाएं बीएसए के एक प्रश्न का सही जबाब नही दे पाई।
——बीएसए प्रश्न पूछते हुए…..
वीओ–03—बीएसए ने पहला प्रश्न इंचार्ज रेनू शुक्ला से पूछा कि मानसून क्या होता है।उत्तर में इंचार्ज रेनू शुक्ला कुछ न बता सकी,उनको इतना भी नही पता कि कक्षा 6 की भूगोल की किताब में और कक्षा 7 की हिंदी की किताब में कुल कितने पाठ है।
जिसके बाद बीएसए ने अंजलि द्विवेदी सहायक अध्यापक के पद तैनात से प्रश्न पूछा कि 1857 की क्रांति में कुल कितने अंग्रेज सेनापति थे किन्ही दो के नाम बताए।मगर शिक्षका अंजलि द्विवेदी उसका जबाब नही दे सकी।जिसके बाद बीएसए ने पहाड़,शैल, पठार के बारे में प्रश्न किये मगर शिक्षिका अंजलि द्विवेदी कुछ भी सही न बता सकी।जिसके बाद बीएसए श्री सिद्दीकी ने दोनों शिक्षिकाओं का वेतन रोकने की कार्यवाही करते हुए।सभी विषयों की किताबो के पाठ का नाम जानने की बात कही।
Loading...