पंजाब विस का बजट सत्र कल से, बिखरा विपक्ष बनेगा सरकार की ताकत, ‘आप’ को होगा नुकसान

Loading...

12 फरवरी से शुरू हो रहे पंजाब विधानसभा के बजट सत्र में सरकार के लिए खास मुश्किलें नजर नहीं आ रही हैं। क्योंकि सत्र से पहले विपक्ष पूरी तरह से बिखरा हुआ है। जिसका फायदा सरकार सदन में उठाएगी। प्रमुख विपक्षी दल आम आदमी पार्टी के दोनों गुटों के बीच समझौते के कोई आसार नहीं है। आप के प्रदेश नेतृत्व ने अंदरखाते तय कर लिया है कि बागी सुखपाल खैरा गुट के छह विधायकों के साथ बातचीत की कोई पहल नहीं करेगी।

ऐसे में तय है कि आप के कोटे से उन विधायकों को बोलने का समय भी नहीं दिया जाएगा। अगर वे विधायक खुद नेता प्रतिपक्ष हरपाल चीमा से अपने मुद्दे बता कर बोलने का समय मांगते हैं तो दिया जा सकता है। लेकिन इसकी उम्मीद नहीं है। ऐसे में आप के विधायक पिछले सत्र की तरह दो गुटों में ही बंटे नजर आएंगे। आप के लिए दूसरी समस्या है कि सत्र में उसके दो फायरब्रांड वक्ता अमन अरोड़ा और बलजिंदर कौर गैर मौजूद रहेंगे।

अमन अरोड़ा को 16-17 फरवरी को होने वाली हार्वर्ड की सालाना कांफ्रेंस में हिस्सा लेने बोस्टन जाना है। जबकि, बलजिंदर कौर का 19 फरवरी को विवाह है। ऐसे में दोनों के ही पूरे सत्र में मौजूद रहने की उम्मीद कम है। ये दोनों पार्टी के प्रमुख वक्ता हैं। इस तरह आप के खेमे में सिर्फ दस विधायक ही नजर आएंगे। खैरा गुट ने अभी तक अपनी रणनीति का खुलासा नहीं किया है।

लेकिन खैरा और मास्टर बलदेव इस्तीफा दे चुके हैं, इस गुट के भी पांच ही विधायक सदन में दिखेंगे। वहीं, विधानसभा और आप से इस्तीफा दे चुके एचएस फूलका ने एलान किया है कि वह सत्र में शामिल होंगे। उधर, शिअद-भाजपा के बीच चल रही खींचतान सत्र से पहले दूर कर ली गई है। गठबंधन के विधायक एकजुट होकर सरकार पर तीर चलाएंगे। लेकिन उनका आप के दोनों गुटों के साथ तालमेल न होना सरकार के लिए राहत की बात होगी।

आप ने लगाए 193 सवाल
आम आदमी पार्टी ने बजट सत्र के दौरान लोगों के मुद्दे उठाने पर फोकस किया है। जिसके लिए विधायक अमन अरोड़ा ने सोशल साइट्स पर एक वीडियो संदेश जारी किया था। लोगों से अपील की थी कि वे अपने मुद्दे बताएं और यह भी बताएं कि किस विधायक के जरिये उठवाना चाहते हैं। जिसके बाद पार्टी ने अलग-अलग विधायकों के जरिये 193 सवाल लगाए थे। अब देखना है कि इनमें से कितने शामिल होते हैं। अमन अरोड़ा के चार ध्यानाकर्षण प्रस्ताव भी लगेंगे। बाकी विधायकों ने भी लगाए हैं।

बिजली को मुद्दा बनाएगी आप
आम आदमी पार्टी ने सत्र के दौरान कई मुद्दों पर सरकार को घेरने की तैयारी की है। पार्टी ने बिजली दरों को लेकर आंदोलन शुरू किया है, यह सत्र में भी उठाया जाएगा। बरगाड़ी, बेरोजगारी, किसान कर्ज माफी, एससी व माइनॉरिटी स्कॉलरशिप, फर्जी ट्रेवल एजेंट, नदियों में प्रदूषण के अलावा नकोदर बेअदबी कांड पर जस्टिस गुरनाम सिंह रिपोर्ट जारी करने के मुद्दे पार्टी सदन में उठाएगी।

Loading...