टीम इंडिया के किस खिलाड़ी की टाइमिंग बेहतर करना चाहते हैं विराट

- in खेल

मुंबई: दुनिया के सबसे फिट क्रिकेटरों में से एक भारतीय कप्तान विराट कोहली भी लगातार क्रिकेट खेलकर परेशान हैं. कोहली ने मंगलवार को स्वीकार किया कि उन्हें अब अपने शरीर की जरूरत को समझते हुए लंबे करियर के लिये वर्कलोड मैनेजमेंट यानी कार्यभार का प्रबंधन करना होगा. कोहली को श्रीलंका में चल रही त्रिकोणीय ट्वेंटी20 सीरीज के लिए आराम दिया गया है. कोहली ने घड़ी की एक ब्रांड के प्रमोशनल कार्यक्रम के दौरान अपने साथ-साथ टीम इंडिया के कुछ अन्य खिलाड़ियों के बारे में भी कई खुलासे किए.

विराट ने टीम इंडिया के स्पिनर युजवेंद्र चहल के बारे में बताया कि वे अक्सर देर से आते हैं. मैदान पर चुस्त और फुर्तीले चहल टीम के लेतलतीफ खिलाड़ियों में शामिल हैं. कोहली ने कहा, ‘‘ शारीरिक रूप से कुछ हल्की फुल्की चोट हैं, मैं इनसे उबर रहा हूं. वर्कलोड ने थोड़ा असर दिखाना शुरू कर दिया है. अब मुझे ज्यादा सतर्क रहना होगा कि मैं अपने शरीर, दिमाग और क्रिकेट के साथ कैसे आगे बढ़ूं.’’ उन्होंने कहा कि ब्रेक उन्हें नई चुनौतियों के लिए तैयार होने के लिये उबरने में मदद कर रहा है जिसकी शुरुआत आईपीएल से होगी.

लगातार खेलते हुए ब्रेक भी जरूरी

कोहली ने कहा, ‘‘ आगे बढ़ने के लिए इस तरह का समय काफी अहम है. मैं इसका लुत्फ उठा रहा हूं. मुझे किसी भी चीज की कमी नहीं खल रही है क्योंकि मेरे शरीर को वाकई इसकी जरूरत थी. हालांकि मैं मैचों पर नजर लगाए हूं, लेकिन मैं इस समय मैच नहीं देख रहा हूं. ऐसा नहीं लग रहा है कि मुझे मैदान पर होना चाहिए था क्योंकि मैंने अपने शरीर की जरूरत को महसूस करना शुरू कर दिया है.’’

घर में हों तो कोई काम नहीं करते

कोहली ने कहा, ‘‘ और जब यह समय पूरा हो जाएगा तो निश्चित रूप से आईपीएल में मैं और ज्यादा तरोताजा हो जाऊंगा. मैं मैदान में ज्यादा सतर्क रहूंगा. मैं लगातार लंबे समय से खेल रहा हूं. मैंने शायद ही किसी मैच को मिस किया हो. लेकिन आपको अपने शरीर का सम्मान करना होता है और मेरे लिए यह दौर बहुत ही महत्वपूर्ण है.’’ कोहली ने कहा, ‘‘ मैं घंटों तक बैठा रह सकता हूं और घंटों तक ऐसे ही रह सकता हूं. मैं मैदान में जो एनर्जी दिखाता हूं, घर पर इसके विपरीत हो जाता हूं क्योंकि जब मैं घर पर होता हूं तो मैं बिलकुल भी हिलता नहीं, बैठा रहता हूं.’’

Loading...

रोजर फेडरर हैं पसंदीदा

कोहली का सभी प्रारूपों में खेलना सुनिश्चित है तो इसी को देखते हुए वह उन पांच क्रिकेटरों में से एक हैं, जिन्हें बीसीसीआई ने ए प्लस का केंद्रीय अनुबंध दिया है. कोहली को टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर काफी प्रिय हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ रोजर फेडरर मेरे पसंदीदा खिलाड़ी हैं. वह कितनी खूबसूरती से खेलते हैं. उनका परिवार है, प्राथमिकताएं तय हैं, वह लोगों की राय और आलोचनाओं की चिंता किए बगैर खेल से समय निकालते हैं और सारे तर्कों को नकारते हुए वह36 साल की उम्र में ग्रैंडस्लैम जीतते हैं. मुझे उनकी यही चीज लुभाती है.’’

हमेशा देर करते हैं चहल

इस सवाल के जवाब में कि वह किसको घड़ी भेंट में देना चाहेंगे तो उन्होंने कहा, ‘ युजवेंद्र चहल को, जो हमेशा ही देर से आते हैं ताकि वह समय पर आएं.’ यानी टीम इंडिया के कप्तान को अपने विश्वस्त स्पिनर की टाइमिंग बेहतर करने की जरूरत महसूस हो रही है.

Loading...
E-Paper