प्रेम विवाह करने पर बेटी की हत्या, पिता गिरफ्तार; इस तरह खुला राज

बसंतराय थाना क्षेत्र के कोरियाना में गेरुआ नदी किनारे गुरुवार को मिले शव की पहचान हो गई है। शव बिहार में बांका जिले के रजौन थाना क्षेत्र के टेटनी गांव निवासी नीलू भारती उर्फ पूजा का था। प्रेम विवाह करने पर पिता मकेश्वर मंडल ने ही उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने पिता मकेश्वर मंडल को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जाता है कि नीलू ने 2015 में गांव के ही सूरज पासवान से अंतरजातीय प्रेम विवाह किया था। उस समय वह नाबालिग थी। लड़की के पिता ने इस मामले में लड़के पर अपहरण का मामला दर्ज करा दिया। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। लड़की को पटना के गायघाट स्थित रिमांड होम तथा लड़के को जेल भेज दिया। नीलू तीन साल 20 दिन रिमांड होम में रही। बालिग होने पर ढाई माह पूर्व उसे वहां से छोड़ दिया गया। उसने पति के साथ रहने की इच्छा जताई।

उधर, सूरज पासवान पूर्व में ही जमानत पर जेल से छूट कर आ गया था। दोनों साथ रहने लगे। सूरज पासवान के अनुसार छह फरवरी को उसके ससुर मकेश्वर मंडल, सास रेणु देवी, साला राजेश मंडल व प्रभात मंडल सहित चार और लोग आए और नीलू को जबरन ले गए। इसकी सूचना उसी दिन रजौन पुलिस को दे दी। अपने स्तर से भी उसकी खोजबीन की जा रही थी। शुक्रवार को अखबारों में खबर छपने के बाद सूरज पासवान ने स्थानीय पुलिस को सूचना दी और परिजनों के साथ सदर अस्पताल पहुंचा और शव की पहचान की।

उधर, रजौन पुलिस ने गुरुवार को ही पूछताछ के लिए लड़की के पिता मकेश्वर मंडल को हिरासत में ले लिया था। नीलू भारती की मौत की पुष्टि होने के बाद अन्य आरोपितों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।

गौरतलब हो कि थाना क्षेत्र के कोरियाना गांव के पास गुरुवार की सुबह एक महिला का शव बरामद किया गया था। कुदाल से काटकर उसकी हत्या की गई थी। सिर बुरी तरह कुचल दिया गया था जिससे उसकी पहचान नहीं हो सकी की। बसंतराय पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए गोड्डा भेज दिया था। बिहार का सीमावर्ती क्षेत्र होने के कारण उधर के भी काफी लोग शव को देखने पहुंच गए थे

Loading...
E-Paper