काशी में फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों ने PM मोदी संग देखी रामलीला

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ आध्यात्मिक राजधानी वाराणसी के दौरे पर हैं. दोनों नेता यहां गंगा आरती का आनंद उठाएंगे, इसके अलावा गंगा में नौका विहार भी करेंगे. अस्सी घाट पहुंचने से पहले जब पीएम मोदी, फ्रांस राष्ट्रपति मैक्रों और उनकी पत्नी दीनदयाल उपाध्याय हस्तकला संकुल पहुंचे तो वहां उन्होंने कई तरह के सांस्कृतिक कलाओं को देखा. इस दौरान वहां पर रामलीला का दर्शन भी कराया जा रहा था. 

पीएम मोदी के साथ फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने भी रामलीला का आनंद उठाया. फ्रांस के राष्ट्रपति ने यहां विजिटर बुक में भी अपने अनुभव को साझा किया. वाराणसी आने से पहले पीएम मोदी और फ्रांस की राष्ट्रपति मैक्रों ने मिर्जापुर में सौर ऊर्जा संयंत्र का उद्घाटन किया.सजकर तैयार है काशी

दोनों नेताओं के स्वागत में काशी सज कर तैयार है. प्रधानमंत्री और फ्रांस के राष्ट्रपति जिस रास्ते से होकर गुजरेंगे, उन रास्तों पर रंग-बिरंगे गुब्बारे और फूल सजाए गए हैं. वहीं अस्सी से लेकर दशाश्वमेध घाट के बीच पड़ने वाले सभी घाटों को सजाया गया है. बनारस वासियों की बात करें, तो उनको इस बात की उम्मीद है कि उनके सांसद और फ्रांस के राष्ट्रपति की दोस्ती और उनका वाराणसी दौरा बनारस के विकास को नया आयाम देगा.

गौरतलब है कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों चार दिन के दौरे पर भारत में हैं. मैक्रों शुक्रवार देर रात दिल्ली पहुंचे थे, जहां एयरपोर्ट जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद उनका स्वागत किया था. यह पहली बार नहीं है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष को वाराणसी ले जाएंगे. इससे पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भी वाराणसी ले गए थे, दोनों नेताओं ने वहां गंगा आरती में भी हिस्सा लिया था.

Loading...
E-Paper