थप्पड़ विवाद पर बोले अरविंद केजरीवाल, मैं जिद्दी हो सकता हूं, हिंसक नहीं

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनकी पार्टी के विधायकों द्वारा कथित रूप से मुख्य सचिव के साथ मारपीट करने के मामले में अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि वह अड़ियल हो सकते हैं लेकिन हिंसक नहीं. केजरीवाल ने कहा कि सभी अधिकारी एक परिवार की तरह हैं. सीएम केजरीवाल ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि हाथापाई वाली लड़ाई कायर लड़ते हैं और उनके खिलाफ लगाए जा रहे ये आरोप बेबुनियाद हैं.

दिल्ली सरकार के कर्मचारियों के एक प्रतिनिधिमंडल को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने इस पूरे घटनाक्रम को सियासी साजिश बताया और कहा कि पिछले 3-4 साल से हमारे खिलाफ षड्यंत्र चल रहे हैं. सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि उनके खिलाफ लगाए जा रहे ये आरोप बेबुनियाद हैं. केजरीवाल पर आरोप लगा था कि उन्होंने अंशु प्रकाश को रात में अपने घर बैठक के लिए बुलाया था और उनकी पिटाई कराई. उन्होंने कहा, केजरीवाल अड़ियल हो सकता है लेकिन वह हिंसक नहीं है. मारपीट में कायर शामिल होते हैं. केजरीवाल कायर नहीं है.

Loading...

बता दें कि मुख्य सचिव अंशु प्रकाश ने 20 फरवरी को आरोप लगाया था कि आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जरवाल ने उन्हें मुख्यमंत्री आवास में आपात बैठक के दौरान मुख्यमंत्री के समक्ष कथित रूप से पीटा. इस घटना के बाद अमानतुल्लाह खान और जरवाल को गिरफ्तार कर लिया गया था और फिलहाल दोनों न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. वहीं फोरम आज भी सीएम की लिखित माफ़ी की मांग पर कायम है.

Loading...
E-Paper