कन्नौज में पुरानी कापियों पर परीक्षा देते पकड़े गये छात्र, 10 पर रिपोर्ट

कन्नौज।  इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में सोमवार को बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया। श्री रामेश्वर दयाल सावित्री देवी इंटर कालेज इमलिया लाख में जीव विज्ञान की परीक्षा के दौरान वर्ष 2016 की 13 उत्तर पुस्तिकाएं पकड़ी गई हैं। पुस्तिकाएं जब्त कर केंद्र व्यवस्थापक समेत दस लोगों के खिलाफ इंदरगढ़ थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

सोमवार दोपहर पाली में जीव विज्ञान की परीक्षा के दौरान एसडीएम तिर्वा डा. अरुण कुमार सिंह ने रामेश्वर दयाल सावित्री देवी इंटर कालेज इमलिया लाख का निरीक्षण किया। इस दौरान केंद्र पर 111 छात्र-छात्राएं परीक्षा देते मिले। कक्ष संख्या पांच में नौ व कक्ष आठ में चार परीक्षार्थी परीक्षा दे रहे थे। कक्ष अंदर से बंद देख एसडीएम ने नकल की आशंका होने पर खुलवा कर जांच की। इसमें 13 परीक्षार्थी वर्ष 2016 की पुस्तिकाओं पर परीक्षा देते पकड़े गए। पुरानी पुस्तिकाओं के बारे में केंद्र व्यवस्थापक व निरीक्षक जवाब नहीं दे सके।

एसडीएम ने जिलाधिकारी रवींद्र कुमार को जानकारी देने के साथ सेक्टर मजिस्ट्रेट मनोज कुमार चतुर्वेदी व जिला विद्यालय निरीक्षक विमलेश विजयश्री को बुलाया। पड़ताल में केंद्र व्यवस्थापक समेत दस लोग दोषी पाए गए। साथ में स्टॉक में वर्ष 2016 की पुस्तिकाओं की खेप बरामद हुई। कुछ लिखी हुई पुस्तिकाएं भी मिली हैं। पुस्तिकाओं की गिनती में भी अंतर है।

केंद्र व्यवस्थापक सतेंद्र कुमार, बाह्य केंद्र व्यवस्थापक अशोक कुमार, पर्यवेक्षक विश्राम सिंह , कक्ष निरीक्षक अवंती व ध्रुव सिंह, सहायक अध्यापक सतेंद्र सिंह व रामवीर सिंह, लिपिक कालीचरण, परिचारक शिव रतन व शिवम के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। एसडीएम ने बताया कि 2016 की पुस्तिकाओं में परीक्षा कराकर 2018 की बाहर से लिखी पुस्तिकाएं जमा करने की आंशका है। 

Loading...
E-Paper