आज से शुरू हुआ संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण

नई दिल्ली: आज से संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण शुरू हो रहा है. नॉर्थ-ईस्ट के तीन राज्यों के चुनावी नतीजों से बीजेपी उत्साहित है. पीएनबी घोटाले समेत कई दूसरे मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए विपक्ष तैयार है. यानि संसद का यह सत्र पूरी तरह हंगामेदार रहने के आसार हैं. सरकार सत्र के दौरान बजट के साथ तीन तलाक संबंधी विधेयक और भगोड़े आर्थिक अपराधी विधेयक को पारित कराने की कोशिश करेगी.

करप्शन पर घेरेगा विपक्ष

नीरव मोदी और पीएनबी घोटाले के मुद्दे पर विपक्ष मोदी सरकार को घेरने के लिए कमर कस चुका है. विपक्ष इसे मोदी सरकार के सबसे बड़े घोटाले के रूप में पेश करेगा. इसके अलावा राफेल डील पर भी विपक्ष हंगामा करेगा. हालांकि सत्र से पहले ही विपक्ष में पीएनबी घोटाले की जांच को लेकर दरार उभर चुकी है. कांग्रेस ने जहां जेपीसी गठन की मांग की थी, वहीं टीएमसी सहित कुछ विपक्षी दलों ने इससे किनारा कर लिया था.

कार्ति पर हंगामा तय

आईएनएक्स मीडिया केस में फंसे कार्ति चिदंबरम की गिरफ्तारी से विपक्ष आगबबूला है. कांग्रेस ने इसे बदले की कार्रवाई करार दिया है. कार्ति पर आरोप है कि साल 2007 में अपने पिता पी. चिदंबरम के वित्त मंत्री रहने के दौरान उन्होंने 10 लाख रुपये की रिश्वत के बदले आईएनएक्स मीडिया को फायदा पहुंचवाया था. तय है कि कांग्रेस पार्टी इस मसले पर सदन में भरपूर हंगामा करेगी.

भगोड़े आर्थिक अपराधी और तीन तलाक बिल

विपक्ष को काउंटर करने के लिए भगोड़े आर्थिक अपराधी विधेयक पारित कराना सरकार की एजेंडा लिस्ट में टॉप पर होगा. नीरव मोदी के 12 हजार 700 करोड़ रुपये के घोटाले के बाद सरकार ने आर्थिक अपराधियों को निशाने पर लेने से जुड़े बिल को मंजूरी दी है. इस विधेयक में फरार आर्थिक अपराधियों की संपत्ति कुर्क करने का प्रावधान है.

राफेल डील भी रहेगी निशाने पर

फ्रांस से राफेल विमान में एक निजी कंपनी को फायदा पहुंचाए जाने समेत दलाली के आरोपों पर भी विपक्ष संसद में आक्रामक होगा. हालांकि रक्षामंत्री का निर्मला सीतारमण का कहना है कि वो विपक्ष के सभी सवालों का जवाब देने को तैयार हैं.

Loading...
E-Paper