सीतापुर: जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक शुक्रवार को हुयी सम्पन्न

सीतापुर। जिलाधिकारी डा0 सारिका मोहन की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक जिलाधिकारी सभागार में शुक्रवार को सम्पन्न हुयी। जिसमे डीपीएम सुजीत वर्मा द्वारा कार्यक्रमवार जनपद की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की गयी। जिसकी समीक्षा जिलाधिकारी द्वारा की गयी। जिलाधिकारी द्वारा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक व मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका को निर्देष दिये गये कि जिन मदों में अभी तक शून्य खर्च किया गया है। उन मदों में तत्काल नियमानुसार खर्च किया जाये।

जिला महिला चिकित्सालय के पिछले वर्ष के जेएसवाई लाभार्थियों के लम्बित भुगतान पर निर्देष दिया कि उनकी सूची ब्लाकवार उपलब्ध कराकर आशा के माध्यम से उनके बैंक सम्बन्धी रिकार्ड मंगवाकर उनका भुगतान तत्काल करना सुनिश्चित करें। ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण समिति के खातों में कोई भी व्यय वर्तमान वित्तीय वर्ष में न करने वाले ब्लाक बिसवां, लहरपुर, पिसावां, साण्डा व खैराबाद को कड़ी चेतावनी देते हुये निर्देष दिया कि सभी ब्लाकों के ग्राम स्वास्थ्य स्वाच्छता एवं पोषण समिति के खातों का व्यय नियमानुसार एक सप्ताह के अन्दर करना सुनिश्चित करें। खातों के संचालन में अगर प्रधान स्तर से कोई परेशानी हो तो जिला पंचायती राज अधिकारी का सहयोग लिया जाये।

जिलाधिकारी द्वारा समस्त अधीक्षको को निर्देष दिया गया कि इस वित्तीय वर्ष की गतिविधियों का व्यय, भुगतान एक सप्ताह के अन्दर करना सुनिश्चित करें। एक सप्ताह के अन्दर भुगतान न होने पर सम्बन्धित एसीएमओ व अधीक्षक पर कड़ी कार्यवाही होगी। 20 मार्च के पहले की सभी गतिविधियों का व्यय भुगतान इसी वित्तीय वर्ष में हो जाना चाहिये। 20 मार्च के बाद की गतिविधियों का ही पैसा भुगतान के लिये कमिटेड किया जाये। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 आरके नैयर ने समस्त अपर/उपमुख्य चिकित्सा अधिकारियों, डीपीएमयू यूनिट व अधीक्षकों को निर्देष दिया कि वह अपने भ्रमण का अग्रिम टूर प्लान बनाकर मुझे उपलब्ध कराये व प्लान के अनुसार भ्रमण करके निरीक्षण आख्या दें। ईपीएफ के अन्तर्गत समस्त संविदा स्टाफ के खातों के केवाईसी की प्रक्रिया पूरी करने के निर्देष अधीक्षकों को दिये गए। साथ ही समय से वेतन देने का निर्देष सम्बन्धित अधीक्षकों को दिया गया।

ग्रह आधारित नवजात शिशु देखभाल कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद में आशाओं का ग्रह भ्रमण लगभग 75 प्रतिशत है। जिसे अधिक से अधिक बढ़ाना है। एल-2 लेवल चिकित्सालय पर इलेक्ट्रानिक वजन मशीन वीएचएनसी की मद से खरीदने का निर्देष दिया गया। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में 24 फरवरी से 10 मार्च तक सघन क्षय रोग(टी0बी0) खोज अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जा कर टीबी के रोग के लक्षणों के आधार पर रोगी की पहचान करेगी।

यदि लक्षणों के आधर पर सम्भावित रोगी पाया जाता है तो स्वास्थ्य टीम उसकी निःशुल्क जांच एव उपचार की व्यावस्था करायेगी। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 आरकेनैयर, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ0 एके अग्रवाल, मुख्य चिकित्सा अधीक्षिका डॉ0 सुषमा कर्णवाल, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा0 पीके सिंह, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एंव सूचना अधिकारी राजकुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी के प्रतिनिध, जिला पंचायतीराज अधिकारी, बेसिक शिक्षा अधिकारी के प्रतिनिधि, जिला कार्यक्रम प्रबन्धक सुजीत वर्मा सहित समस्त अपर मुख्य चिकित्साधिकारी व अधीक्षक उपस्थित रहे।

Loading...
E-Paper