गोडसे पर नाटक के मंचन से बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में विवाद

वाराणसी: बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छात्रों द्वारा नाथू राम गोडसे पर एक नाटक का मंचन किए जाने से विवाद उत्पन्न हो गया है. आरोप है कि इसमें महात्मा गांधी की खराब छवि दिखाई गई है. अधिकारियों ने बताया कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी हुआ जिसे लेकर छात्र समुदाय के बीच मतभेद है.

घटना को लेकर कुछ छात्रों ने पुलिस के समक्ष शिकायत दर्ज कराई है. एक अधिकारी ने बताया कि कुछ छात्रों ने मराठी नाटक ‘मी नाथूराम गोडसे बोलतोय’ (मैं नाथूराम गोडसे बोल रहा हूं) को लेकर कड़ी आपत्ति व्यक्त की है. विश्वविद्यालय परिरसर में कला संकाय की ओर से आयोजित तीन दिवसीय सांस्कृतिक आयोजन के दौरान मंगलवार को यह नाटक दिखाया गया था.

Loading...

गौरतलब हो कि नाथूराम गोडसे को लेकर देश में यह पहला विवाद नहीं है. पिछले साल नवंबर में मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हिंदू महासभा ने अपने कार्यालय में पूरे विधि-विधान से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की प्रतिमा स्थापित की थी. जिसके बाद जमकर हंगामा हुआ था और प्रशासनिक दल ने वहां से हटा दिया है और अपने कब्जे में ले लिया था.

Loading...
E-Paper