पीएनबी धोखाधड़ी : ईडी ने नीरव मोदी, चोकसी की 94 करोड़ रुपये की संपत्ति, लक्जरी कारें जब्त कीं

मुंबई/नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएनबी महाघोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी पर शिकंजा कसते हुए उसकी 9 कारों को जब्त कर लिया है. इन कारों की कीमत कई करोड़ों में है. इनमें से एक कार रॉल्स रॉयल घोस्ट की कीमत ही 6 करोड़ है. इसके अलावा 2 मर्सिडीज बेंज GL 350, एक पॉर्शे पैनामेरा, तीन होंडा, एक टोयोटा फॉर्चूनर और एक टोयोटा इनोवा है. इसके अलावा ईडी ने पंजाब नेशनल बैंक में 11,400 करोड़ रुपये की कथित धोखाधड़ी से जुड़े धन शोधन मामले की जांच में नीरव मोदी और मेहुल चोकसी समूह के 94.52 करोड़ रुपये कीमत के म्यूच्युल फंड्स और शेयर फ्रीज किए हैं.

एजेंसी के अधिकारियों ने बताया कि इनमें से 86.72 करोड़ रुपये के म्यूच्यूअल फंड्स और शेयर चोकसी और उनके समूह के है, जबकि शेष 7.80 करोड़ रूपये के शेयर नीरव मोदी समूह के हैं. चोकसी नीरव मोदी का मामा है और गीतांजलि समूह तथा अन्य आभूषण ब्रांड का प्रमोटर है.

इससे पहले मंगलवार को सीबीआई ने अलीबाग इलाके में नीरव मोदी के फॉर्महाउस को भी सील कर दिया था. अधिकारी के मुताबिक, नीरव मोदी ने 1.5 एकड़ में फैले इस फॉर्महाउस को वर्ष 2004 में 32 करोड़ में इसलिए खरीदा था ताकि वो वहां पर अपने खास मेहमानों के लिए पार्टी आयोजित कर सके और अपनी महंगी और खास ज्वैलरी की कलेक्शन शोकेस में लगा सके.

इससे पहले मुंबई की एक विशेष अदालत ने पंजाब नेशनल बैंक में 11,400 करोड़ रुपये के कथित फर्जीवाड़े के सिलसिले में नीरव मोदी की फायर स्टार डायमंड कंपनी के अध्यक्ष (वित्त) विपुल अंबानी और पांच अन्य को 5 मार्च तक सीबीआई हिरासत में भेज दिया. नीरव मोदी और उसके रिश्तेदार एंव गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चोकसी की संलिप्तता वाले मामले में सीबीआई द्वारा दर्ज की गई प्राथमिकियों के आधार पर इन सभी 6 लोगों को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया था.

सीबीआई ने जनरल मैनेजर स्तर के अधिकारी राजेश जिंदल को भी गिरफ्तार किया है. जिंदल 2009 से 2011 तक मुंबई में कार्यरत थे. सीबीआई उनसे इस घोटाले को लेकर पूछताछ कर रही है. ख़बरों के अनुसार वे पीएनबी की ब्रैडी हाउस शाखा में ब्रांच हेड थे. सीबीआई लगातार घोटाले के आरोपियों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. साथ ही कंपनी से जुड़े हर आदमी से पूछताछ की जा रही है.

Loading...
E-Paper