विजय माल्या-ललित मोदी को भारत लाने में अब तक कितने खर्च? CBI ने नहीं दी जानकारी

नई दिल्ली. पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) को अरबों का चूना लगाकर फरार हुए कारोबारी नीरव मोदी पर हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं. सीबीआई और ईडी की टीमें भी कार्रवाई तेज किए हुए हैं. इस बीच दो अन्य भगोड़ों विजय माल्या और ललित मोदी को वतन वापस लाने की कोशिश में अब तक कितने खर्च हुए हैं, सीबीआई ने इसकी जानकारी देने से इनकार कर दिया है. 

पुणे के आरटीआई कार्यकर्ता विहार धुर्वे ने सीबीआई से इसपर सवाल पूछा था. धुर्वे ने पूछा था कि 9 हजार करोड़ के आरोपी विजय माल्या और मनी लॉन्ड्रिंग का केस झेल रहे ललित मोदी को वापस भारत लाने के लिए अब तक कितनी रकम खर्च की जा चुकी है? सीबीआई ने आरटीआई एक्ट की धारा 24 का हवाला देते अपना जवाब दिया और इससे जुड़ी किसी भी जानकारी को साझा करने से इनकार कर दिया.

बता दें कि सीबीआई की टीम ने माल्या और मोदी के मामले को लेकर कई बार विदेशी दौरे कर चुकी है. लिकर किंग विजय माल्या मार्च 2016 में भारत छोड़कर फरार हो गये थे. माल्या के खिलाफ सीबीआई ने लुकआउट नोटिस भी जारी किया था. ललित मोदी और विजय माल्या के देश से बाहर चले जाने पर केंद्र को भी खासी फजीहत का सामना करना पड़ा है.

विपक्ष इस मुद्दे पर लगातार सरकार पर हमलावर है. हाल में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर केंद्र पर हमला किया. इस ट्वीट में राहुल ने लिखा-, ‘घोटालेबाजों को भागने का फॉर्मूलाः ल (मो) प्लस नी (मो) यानी भाग(गो).’

Loading...
E-Paper