स्कूल बैग की तलाशी में निकले रेजर, ब्लेड, मोबाइल और अश्लील किताबें

- in उत्तरप्रदेश, प्रदेश

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक निजी 

स्कूल बैग की तलाशी में निकले रेजर, ब्लेड, मोबाइल और अश्लील किताबें

स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा ने पहली कक्षा के लड़के पर चाकू से हमला कर दिया था। इस चौंकाने वाले मामले के बाद शहर के कई स्कूल्स ने छात्रों के बस्तों की अचानक जांच करवाई। इसमें उन्हें चौंकाने वाली चीजें मिली हैं, जिनके बारे में जानकर आप दंग रह जाएंगे।

दो दर्जन से अधिक स्कूलों के छात्र-छात्राओं के बस्तों की औचक जांच की गई, जिसमें टीचर्स को रेजर, ट्रिमर, सिगरेट और पोर्न मैगजीन जैसी चीजें मिलीं। एक टीचर ने कहा कि चेकिंग के दौरान हमें पता चला कि नौवीं कक्षा के एक छात्र के बैग में पॉर्न मैग्जीन थी, जिसमें भूरे रंग के कवर चढ़ा था और उसके लेबल पर विज्ञान विषय लिखा था। हमने कई लड़कों के बैग से सिगरेट और लाइटर के पैकेट भी बरामद किए हैं। इन चीजों को जब्त कर लिया गया है और बच्चों के माता-पिता को नोटिस जारी कर दिया गया है। शिक्षक ने यह भी कहा कि कुछ छात्रों के बस्तों से रेजर्स, शेविंग फोम और ट्रिमर्स भी मिले हैं।

Loading...

एक अन्य शिक्षक ने बताया कि जब उन्होंने बच्चों से इस बारे में पूछा, तो उन्होंने कहा कि उनके माता-पिता उन्हें घर पर शेविंग करने की इजाजत नहीं देते हैं, इसलिए वे इन सामानों को स्कूल में लेकर आते हैं। स्कूल से घर जाने से पहले वे उनका इस्तेमाल करते हैं। इंटरवल से पहले लड़कियों के बैग की तलाशी भी ली गई और उनसे कैंची, ब्लेड, नेल पॉलिश, लिपस्टिक और परफ्यूम के साथ ही कई अन्य चीजें भी बरामद हुईं। एक शिक्षक ने कहा कि कुछ बच्चों के पास से आइपॉड और मोबाइल फोन भी बरामद हुए हैं।

कई स्कूलों ने कक्षाओं में मोबाइल फोन लाने पर प्रतिबंध लगा रखा है। बावजूद इसके जांच में पता चला कि छात्रों ने बैग और डायरी में अपने फोन छिपाए हुए थे। सीबीएसई बोर्ड से संबद्ध एक स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा कि माता-पिता को स्कूल भेजने से पहले अपने बच्चों के बैग की जांच करनी चाहिए।

Loading...