पीएनबी घोटाला: पटना में ईडी ने की छापेमारी, दो करोड़ रुपये कीमत की संपत्ति जब्त  

- in राष्ट्रीय

पटनाः पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में आभूषण कारोबारी नीरव मोदी और उनके रिश्तेदार मेहुल चोकसी के गीतांजलि समूह के परिसरों पर शुक्रवार शाम से ही छापेमारी की कार्रवाई कर रहे प्रवर्तन निदेशालय ने अभी तक 2.25 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है. पटना स्थित प्रवर्तन निदेशालय की इकाई से मिली जानकारी के अनुसार, एजेंसी की टीम शुक्रवार देर से शाम महाराजा कॉम्पलेक्स स्थिति गीतांजलि समूह के परिसर पर छापेमारी की कार्रवाई कर रही थी. टीम ने वहां से 2.25 करोड़ रुपये कीमत की संपत्ति जब्त की है. गौरतलब है कि पटना में गीतांजलि ग्रुप का फ्रेंचाईजी विजय सिंह नामक व्यक्ति के पास है. वह महालक्ष्मी जेवल्स के नाम से यहां गीतांजलि समूह के साथ व्यापार कर रहे हैं. 

इस मामले में विदेश मंत्रालय ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी का पासपोर्ट शुक्रवार को तत्काल प्रभाव से चार हफ्तों के लिए निलंबित कर दिया था. हालांकि मंत्रालय को यह जानकारी नहीं है कि नीरव अभी कहां है. वहीं पंजाब नेशनल बैंक की शिकायत के आधार पर सीबीआई ने कल नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ नये सिरे से प्राथमिकी दर्ज कर उनका पता लगाने के लिए इंटरपोल से संपर्क किया. अधिकारियों ने बताया कि पीएनबी की ओर से 13 फरवरी को मिली शिकायत के आधार पर नये सिरे से प्राथमिकी दर्ज की गयी है. प्राथमिकी के अनुसार, पीएनबी को हुआ कथित नुकसान 4,886 करोड़ रुपये से ज्यादा का है.

गीतांजली समूह के 26 परिसरों पर छापेमारी

एजेंसी ने कल मुंबई, पुणे, सूरत, जयपुर, हैदराबाद और कोयंबटूर में गीतांजली समूह के 26 परिसरों पर छापेमारी की. सीबीआई ने पंजाब नेशनल बैंक में 11 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के कथित घोटाले में गीतांजलि समूह के मालिक मेहुल चोकसी के खिलाफ नई एफआईआर दर्ज की है. आरोप है कि पंजाब नेशनल बैंक की मुंबई शाखा से हेराफेरी करके 4,886 करोड़ रुपये जारी किए गए.

Loading...

यह राशि तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, नक्षत्र और गिली को 2017-18 में जारी की गई. इससे पहले एजेंसी ने 280 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी से संबंधित मामला दर्ज किया था. अब यह मामला नीरव मोदी और चोकसी की कंपनियों को जारी 6,498 करोड़ रुपए के एलओयू तक पहुंच चुका है. एफआईआर दर्ज करने के बाद सीबीआई ने छह शहरों में 26 जगहों पर गीतांजलि समूह के ठिकानों पर छापेमारी की.

Loading...
E-Paper