दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला, उम्र जानकर आप भी हो जायेंगे हैरान

- in Main Slider, अजब गजब

आज हम आपको बताने जा रहे है दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला के बारे। जी हां इटली की महिला एम्मा मोरानो 117 की हो चुकी हैं। उन्हें 19 शताब्दी में जन्मी अंतिम जीवित व्यक्ति माना जाता है। उनका जन्म 29 नवंबर 1899 को हुआ था। वह दुनिया की सबसे बुजुर्ग जीवित व्यक्ति हैं।आज हम आपको बताने जा रहे है दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला के बारे। जी हां इटली की महिला एम्मा मोरानो 117 की हो चुकी हैं। उन्हें 19 शताब्दी में जन्मी अंतिम जीवित व्यक्ति माना जाता है। उनका जन्म 29 नवंबर 1899 को हुआ था। वह दुनिया की सबसे बुजुर्ग जीवित व्यक्ति हैं।    उनके खाने के बारे में पूछे जाने पर वो बताती हैं कि मैं हर रोज दो अंडे और कुकीज खाती हूं। लेकिन मैं बहुत ज्यादा नहीं खाती क्योंकि मेरे पास दांत नहीं है। उनके पास दुनिया का सबसे उम्रदराज व्यक्ति होने का गिनीज विश्व रिकॉर्ड का प्रमाण पत्र है।    मोरानो एकांतवासी प्रवृति की महिला हैं. वर्ष 1938 में उनका इकलौता बेटा गुजर गया था जिसके कुछ ही दिनों के बाद उन्होंने अपने हिंसक पति को छोड़ दिया था। तभी से मोरानो अकेली ही रहती हैं। आठ भाई-बहनों में सबसे बड़ी मोरानो का कोई भी भाई-बहन अब जिंदा नहीं है।   उनसे मिलने अमेरिका, स्वीट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, तुरीन, मिलान से लोग हर साल आते हैं। वह पिछले बीस साल से अपने दो कमरे के छोटे से घर में रह रही हैं। वह बड़ी मुश्किल से बोल और सुन पाती हैं। उनकी नजर भी कमजोर है।

उनके खाने के बारे में पूछे जाने पर वो बताती हैं कि मैं हर रोज दो अंडे और कुकीज खाती हूं। लेकिन मैं बहुत ज्यादा नहीं खाती क्योंकि मेरे पास दांत नहीं है। उनके पास दुनिया का सबसे उम्रदराज व्यक्ति होने का गिनीज विश्व रिकॉर्ड का प्रमाण पत्र है।

मोरानो एकांतवासी प्रवृति की महिला हैं. वर्ष 1938 में उनका इकलौता बेटा गुजर गया था जिसके कुछ ही दिनों के बाद उन्होंने अपने हिंसक पति को छोड़ दिया था। तभी से मोरानो अकेली ही रहती हैं। आठ भाई-बहनों में सबसे बड़ी मोरानो का कोई भी भाई-बहन अब जिंदा नहीं है।

Loading...

उनसे मिलने अमेरिका, स्वीट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, तुरीन, मिलान से लोग हर साल आते हैं। वह पिछले बीस साल से अपने दो कमरे के छोटे से घर में रह रही हैं। वह बड़ी मुश्किल से बोल और सुन पाती हैं। उनकी नजर भी कमजोर है।

Loading...