गर्भवती महिला को भूलकर भी ना होने दें दुखी, पड़ता है ये असर

- in स्वस्थ्य

गर्भावस्था के दौरान मां का शरीर बहुत नाजुक होता है. इस दौरान मां शारीरिक और मानसिक तौर पर बहुत ही संवेदनशील हो जाती है. कई बार घर में कुछ ऐसा हो जाता है कि गर्भवती महिला के मन को चोट पहुंच जाती है और वे दुखी हो जाती हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसका परिणाम बहुत बुरा हो सकता है.

कोख में पल रहे बच्चे पर गर्भवती मां का पूरा असर पड़ता है. वह उन्हीं के खान-पान से प्रभावित होता है. लेकिन एक ताजा शोध में सामने आया है कि अगर गर्भावस्था के दौरान मां दुखी रहती है तो इसका बुरा असर होने वाले बच्चे के मष्तिस्क पर पड़ता है. रिसर्च स्टैनफर्ड इंस्टीट्यूट फॉर इकॉनमिक पॉलिसी के दो प्रोफेसर ने किया.

रिसर्च के मुताबिक वे गर्भवती महिलाएं जिनके किसी करीबी की मौत गर्भवस्था के दौरान हो जाती है वे दुखी हो जाती हैं. इस दुख का असर उनके होने वाले बच्चे पर पड़ता है. जब वे बड़े हो जाते हैं तो मानसिक बीमारियों की खतरा अन्य की अपेक्षा अधिक होता है.

Loading...

शोध  में शामिल प्रोफेसर परस्सन ने कहा, ‘हम किसी को मरने से तो नहीं रोक सकते हैं., लेकिन खान-पान पर ध्यान देकर और मां का विशेष ख्याल रख बच्चे पर पड़ने वाले हानिकारक प्रभावों को कम किया जा सकता है.’

Loading...