तीसरे टेस्ट में इस खिलाड़ी की हो सकती है एंट्री, टीम इंडिया ने किया इशारा

टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर है. तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले दो टेस्ट मैच हो चुके हैं. पहला टेस्ट मैच केपटाउन में हुआ था, जिसमें भारत को 72 रनों से हार का सामना करना पड़ा था. दूसरा टेस्ट मैच सेंचुरियन में खेला गया, जिसमें दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 135 रनों से मात दी. दोनों टेस्ट हारने के साथ ही भारत सीरीज गंवा चुका है और अफ्रीका 2-0 से आगे है. तीसरा टेस्ट मैच जोहानिसबर्ग में खेला जाना है. टीम इंडिया के इस खराब प्रदर्शन से ना केवल क्रिकेट के दिग्गज बल्कि फैन्स भी खासे नाराज है. 

तीसरे टेस्ट में इस खिलाड़ी की हो सकती है एंट्री, टीम इंडिया ने किया इशारा

टीम चयन को लेकर भारतीय क्रिकेट के दिग्गजों ने अपनी नाराजगी भी जाहिर की है. बता दें कि केपटाउन टेस्ट और सेंचुरियन टेस्ट में अंजिक्य रहाणे को नजरअंदाज कर रोहित शर्मा को मौका दिया गया. दोनों ही टेस्ट मैचों रोहित शर्मा फ्लॉप साबित हुए. जबकि अगर आंकड़ों की बात करें तो विदेशी पिचों पर रहाणे का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है. ऐसे में रहाणे की जगह रोहित को मौका देने के फैसले पर विराट को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है, लेकिन अब ऐसा लगता है कि तीसरे टेस्ट मैच में रहाणे खेलते दिखाई दे सकते हैं. 

दरअसल, टीम इंडिया की तरफ से ऐसे संकेत मिले हैं कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में अंजिक्य रहाणे की वापसी होगी. हाल के वर्षों में विदेशों में सबसे सफल भारतीय बल्लेबाजों में से एक उप कप्तान रहाणे को केपटाउन और सेंचुरियन में टेस्ट में नहीं चुना गया था और भारतीय टीम प्रबंधन ने सीमित ओवरों के विशेषज्ञ रोहित शर्मा को ‘उनकी मौजूदा फॉर्म’ के चलते उन्हें तरजीह दी थी।

उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे रोहित शर्मा

रोहित शर्मा उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके और पिछले मैचों में भारतीय बल्लेबाजों की दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ कमजोरी से चारों ओर आलोचना शुरू हो गई, जिसके बाद सेंचुरियन में प्रेस कांफ्रेंस में कप्तान ने काफी तीखे जवाब दिए थे। 

वांडरर्स पर हुए अभ्यास सत्र में शामिल हुए रहाणे 

रविवार (21 जनवरी) को वांडरर्स पर हुए अभ्यास सत्र को अगर संकेत माना जाए तो रहाणे को बुधवार से शुरू होने वाले तीसरे टेस्ट के लिए अंतिम एकादश में चुने जाने की संभावना है. रहाणे ने कोहली और हार्दिक पांड्या के साथ बल्लेबाजी की, जिससे मध्यक्रम में उनके शामिल होने का संकेत लगता है. बल्लेबाजी और फील्डिंग सत्र के समाप्त होने के बाद कोहली और रहाणे ने काफी लंबा समय नेट में बिताया. रहाणे चार घंटे के ट्रेनिंग सत्र से बाहर आने वाले अंतिम खिलाड़ी रहे. 

विदेशी पिचों के हीरो हैं रहाणे

हालांकि आंकड़े ये भी बताते हैं कि रहाणे का घरेलू पिचों पर औसत कम रहता है, जबकि विदेशी पिचों पर वह अधिक रन बनाते हैं. संभव है यहां उनकी खराब फॉर्म दक्षिण अफ्रीकी दौरे के लिए अहम साबित हो. घरेलू पिचों पर उनका औसत 34.44 है जबकि विदेशी पिचों पर उन्होंने 53.44 की औसत से रन बनाए हैं. यह 43 टेस्ट मैचों के आंकड़े हैं.

उन्होंने अपने करियर की शुरुआत में वह विदेशों में 17 टेस्ट खेले जबकि घर में उन्हें केवल एक टेस्ट खेलने का मौका मिला. लेकिन विदेशों में अजिंक्य रहाणे ने सबको प्रभावित किया, लेकिन पिछली बार जब फिरोजशाह पर टेस्ट हुआ था तो रहाणे ने दोहरा शतक लगाया था, ताकि घरेलू पिचों पर उनका औसत बेहतर हो सके. पिछली 18 टेस्ट पारियों में उनका औसत 22.23 रहा है. 16 बार उन्होंने पचास से कम रन बनाए. उनका अधिकतम स्कोर बांग्लादेश के खिलाफ 82 रन रहा है.

रहाणे को नहीं खिलाने पर विराट ने दिया था यह जवाब 
कप्तान विराट कोहली ने पहले टेस्ट मैच में रोहित शर्मा के चयन का बचाव करते हुए कहा था कि अजिंक्‍य रहाणे की जगह शर्मा को वरीयता उनके हालिया प्रदर्शन के आधार पर दी गई थी.

रहाणे को न खिलाने पर अफ्रीकी कप्तान भी थे हैरान

भारत के केपटाउन टेस्ट हारने के बाद दक्षिण अफ्रीका टीम के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने भी इस मामले में अपनी हैरानी जाहिर की थी. उन्होंने कहा था कि पहले टेस्ट में अजिंक्य रहाणे की जगह रोहित शर्मा को चुने जाने से वह हैरान रह गए. उन्होंने यह भी कहा था कि अनुभवी तेज गेंदबाजों ईशांत शर्मा और उमेश यादव पर जसप्रीत बुमराह को तरजीह दिए जाने से भी वह हैरान थे. उन्होंने कहा, ‘हम हैरान थे. हमें नहीं लगा था कि जसप्रीत बुमराह खेलेगा. वह वनडे क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन कर रहा था, लेकिन हम दूसरे तेज गेंदबाजों के लिए तैयारी कर रहे थे, क्योंकि उन्होंने ज्यादा टेस्ट खेले हैं.’

Loading...
E-Paper