बाल सुधार गृह में दुष्कर्म के आरोपित कैदी ने की खुदकशी

- in झारखण्ड, प्रदेश

सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोप में जमशेदपुर स्थित बाल सुधार गृह में बंद एक बंदी ने बुधवार देर रात फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। सुधार गृह के कर्मचारियों को इसकी जानकारी गुरुवार की सुबह हुई, जब कैदियों की गिनती की गई। गिनती के दौरान एक संख्या कम होने पर उक्त बंदी की खोज शुरू हुई तो टीवी रूम में पंखा से झूलता उसका शव मिला। उसके बाद सुधार गृह के कर्मचारियों ने सुबह छह बजे घटना की जानकारी परसुडीह थाना और परिजन को फोन कर दी।बाल सुधार गृह में दुष्कर्म के आरोपित कैदी ने की खुदकशीबाल सुधार गृह में दुष्कर्म के आरोपित कैदी ने की खुदकशी

सात अप्रैल से था न्यायिक हिरासत में

पुलिस ने नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोप में उक्त युवक और उसके दोस्त को सात अप्रैल 2018 को गिरफ्तार कर बाल सुधार गृह भेजा था। बाद में जमानत पर उक्त युवक का दोस्त बाहर आ गया, जबकि वह सुधार गृह में ही बंद रहा। दोस्त के सुधार गृह से बाहर आने के बाद से वह लगातार तनाव में रहता था। आशंका है कि उसने हताशा में खुदकशी कर ली।

मां ने की जांच की मांग

Loading...

बेटे की मौत की खबर मिलते ही उक्त युवक की मां बस्ती की महिलाओं के साथ घाघीडीह स्थित सुधार गृह पहुंची। उसके बाद इन लोगों ने घटना की उच्चस्तरीय जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए जमकर हंगामा किया। बाद में सुधार गृह के अधिकारियों ने महिलाओं को समझा-बुझाकर घर भेज दिया।

जानें, क्या था आरोप

उलीडीह थाना क्षेत्र में रहने वाली 14 वर्षीय नाबालिग छात्रा ने उक्त युवक व उसके दोस्त के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सात अप्रैल 2018 को दर्ज कराया था। बयान में पीड़िता ने कहा था कि छह अप्रैल की शाम साढ़े आठ बजे ट्यूशन से आ रही थी। रास्ते में बस्ती में ही रहने वाले उक्त युवक ने रोककर बहन के पास छोड़ने की बात कही। चूंकि युवक बस्ती में ही रहता था, इसलिए नाबालिग लड़की उसकी बाइक पर बैठ गई। वह उसे लेकर अपने दोस्त के घर ले गया। घर में कोई नहीं था। वहां उसने उसके साथ दुष्कर्म किया दूसरी ओर उसके दोस्त ने उसकी वीडियो बनाई। वीडियो बनाने के बाद उस युवक के दोस्त ने वीडियो को वायरल कर देने की धमकी देकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

Loading...