हामिद करजई बोले : यह मुलाकात एक बहाना है, प्यार का सिलसिला पुराना है.

- in पंजाब, प्रदेश

यह मुलाकात एक बहाना है, क्योंकि प्यार का सिलसिला पुराना है… ये शब्द हैैं अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई के। वह पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी (पीएयू) में किसान मेले में शामिल होने पहुंचे थे। किसानों के प्यार को देखते हुए भावुक हुए करजई ने अपना संबोधन शायराना अंदाज में शुरु किया।यह मुलाकात एक बहाना है, क्योंकि प्यार का सिलसिला पुराना है... ये शब्द हैैं अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई के। वह पंजाब एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी (पीएयू) में किसान मेले में शामिल होने पहुंचे थे। किसानों के प्यार को देखते हुए भावुक हुए करजई ने अपना संबोधन शायराना अंदाज में शुरु किया।  उन्होंने कहा कि जहां दिल जाता है, वहां कदम भी चले जाते हैं। मेरा तो दिल भी यहां हैं और कदम भी। करजई पीएयू में शुरू हुए किसान मेले के उद्घाटन समारोह में विशेष मेहमान के तौर पर पहुंचे थे। पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर भी इस दौरान विशेष तौर पर मौजूद रहे। ओपन एयर थिएटर में पहुंचे हामिद करजई ने हाथ जोड़कर किसानों को 'सतश्री अकाल' कहा। उन्होंने कहा कि पंजाब की मिट्टी और हवा में गजब का अपनापन है।  पंजाबियों की मेहमान नवाजी व पंजाबी खाने ने बनाया मुरीद   अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि वह पंजाबी खाने व पंजाबियों की मेहमाननवाजी के कायल हो गए हैं। पंजाबी खाना इतना लजीज था कि अल्फाज नहीं हैं। पीएयू के वीसी, राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने जिस तरह से उनका स्वागत किया है, वह उन्हें तमाम उम्र याद रहेगा।  वीसी साहब... पंजाबी में ही बोलिये    ई-फार्मेसी के विरोध में विक्रेताओं की हड़ताल के कारण 28 को नहीं मिलेंगी दवाइयां यह भी पढ़ें ओपन एयर थिएटर में किसानों को संबोधित कर रहे वीसी डॉ. बलदेव सिंह ढिल्लों ने अपना भाषण पंजाबी में शुरु किया। इसी बीच उन्होंने अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई को पीएयू की कुछ विशेष वैरायटी के बारे में जानकारी देने के लिए अंग्रेजी में बोलना शुरू किया तो हामिद करजई ने उन्हें बीच में ही रोकते हुए कहा कि 'वीसी साहब... पंजाबी में ही बताएं। अच्छा लग रहा है और सब समझ आ रहा है।' जिसके बाद वीसी ने अपना भाषण पंजाबी में ही पूरा किया।  आसमान से लुधियाना की हरियाली देख बहुत अच्छा लगा   रुपये की कमजोरी से निर्यातकों को फायदा कम, नुकसान ज्यादा यह भी पढ़ें  हामिद करजई ने कहा कि जब वह हेलीकॉप्टर से लुधियाना को देख रहे थे तो आसमान से लुधियाना बेहद खूबसूरत नजर आया। क्योंकि हर तरफ हरियाली ही हरियाली दिखी। जब पीएयू के हेलीपेड पर कदम रखा, तो यहां की मिट्टी, जमीन को छू लिया। उन्होंने कहा कि पंजाब की तरक्की के लिए वह अल्लाह से फरियाद करेंगे कि यह सूबा खूब तरक्की करे। पंजाब सदा हसदा-वसदा रहे

उन्होंने कहा कि जहां दिल जाता है, वहां कदम भी चले जाते हैं। मेरा तो दिल भी यहां हैं और कदम भी। करजई पीएयू में शुरू हुए किसान मेले के उद्घाटन समारोह में विशेष मेहमान के तौर पर पहुंचे थे। पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनौर भी इस दौरान विशेष तौर पर मौजूद रहे। ओपन एयर थिएटर में पहुंचे हामिद करजई ने हाथ जोड़कर किसानों को ‘सतश्री अकाल’ कहा। उन्होंने कहा कि पंजाब की मिट्टी और हवा में गजब का अपनापन है।

पंजाबियों की मेहमान नवाजी व पंजाबी खाने ने बनाया मुरीद

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि वह पंजाबी खाने व पंजाबियों की मेहमाननवाजी के कायल हो गए हैं। पंजाबी खाना इतना लजीज था कि अल्फाज नहीं हैं। पीएयू के वीसी, राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने जिस तरह से उनका स्वागत किया है, वह उन्हें तमाम उम्र याद रहेगा।

वीसी साहब… पंजाबी में ही बोलिये

Loading...

ओपन एयर थिएटर में किसानों को संबोधित कर रहे वीसी डॉ. बलदेव सिंह ढिल्लों ने अपना भाषण पंजाबी में शुरु किया। इसी बीच उन्होंने अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई को पीएयू की कुछ विशेष वैरायटी के बारे में जानकारी देने के लिए अंग्रेजी में बोलना शुरू किया तो हामिद करजई ने उन्हें बीच में ही रोकते हुए कहा कि ‘वीसी साहब… पंजाबी में ही बताएं। अच्छा लग रहा है और सब समझ आ रहा है।’ जिसके बाद वीसी ने अपना भाषण पंजाबी में ही पूरा किया।

आसमान से लुधियाना की हरियाली देख बहुत अच्छा लगा

हामिद करजई ने कहा कि जब वह हेलीकॉप्टर से लुधियाना को देख रहे थे तो आसमान से लुधियाना बेहद खूबसूरत नजर आया। क्योंकि हर तरफ हरियाली ही हरियाली दिखी। जब पीएयू के हेलीपेड पर कदम रखा, तो यहां की मिट्टी, जमीन को छू लिया। उन्होंने कहा कि पंजाब की तरक्की के लिए वह अल्लाह से फरियाद करेंगे कि यह सूबा खूब तरक्की करे। पंजाब सदा हसदा-वसदा रहे

Loading...