अोमान में 300 साल पुराने शिव मंदिर और मस्जिद का दौरा करेंगे पीएम मोदी

- in अन्तर्राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम एशिया के तीन देशों की यात्रा के अंतम चरण में रविवार को ओमान पहुंचे. वह दो दिनों तक ओमान में रहेंगे. वह यहां ओमान के सुल्तान और अन्य प्रमुख नेताओं से बातचीत करेंगे. साथ ही वह सोमवार को मस्कट में 300 साल पुराने शिव मंदिर और सुल्तान कबूस ग्रैंड मस्जिद भी जाएंगे.

पीएम मोदी दुबई से यहां पहुंचे. सुल्तान कबूस ग्रैंड मस्जिद के निर्माण में तीन लाख टन भारतीय पत्थरों का इस्तेमाल हुआ है. मोदी ओमान की कई दिग्गज कंपनियों के सीईओ से भी मिलेंगे. वह काउंसिल ऑफ मिनिस्टर के लिए उप प्रधानमंत्री सैयद फहद बिन महमूद अल सईद और अंतरराष्ट्रीय संबंध एवं सहयोग मामलों के लिए उप प्रधानमंत्री सैयद असद बिन तारिक अल सईद से भी मुलाकात करेंगे.

पीएम मोदी ने अपनी यात्रा से पहले ओमान को भारत का एक निकट समुद्री पड़ोसी बताया था, जिसके साथ भारत के अच्छे संबंध हैं. मस्कट में स्थित प्राचीन शिव मंदिर ओमान का सबसे पुराना शिव मंदिर है. इसी मंदिर में अभिषेक करने के लिए पीएम मोदी पहुंचेंगे. यह खाड़ी क्षेत्र में रहने वाले हिंदुओं में बेहद लोकप्रिय है. इससे पहले पीएम मोदी ने इस दौरे में ही यूएई के आबू धाबी में बनने वाले पहले हिंदू मंदिर का शिलान्यास किया.

Loading...

ओमान से भारत के पुराने और ऐतिहासिक रिश्ते हैं

जब ओमान के सुल्तान कबूस बिन सैद अल-सैद ने जुलाई, 1970 में सत्ता अपने हाथों में ली तो उस वक्त दो ही मुल्क, सिर्फ भारत और ब्रिटेन के साथ ही उनके कूटनीतिक रिश्ते बने. 1971 की बांग्लादेश जंग में ओमान एक मात्र मुस्लिम देश था या अरब देश था जिसने भारत का समर्थन किया. उसने संयुक्त राष्ट्र में भी भारत का उस वक्त समर्थन किया जब सऊदी अरब, ईरान, जॉर्डन सब सुल्तान कबूस से नाराज थे. लेकिन वो अड़े रहे और भारत के पक्ष में खड़े रहे. 1970 से भारत और ओमान के बीच लगातार कूटनीतिक, राजनीतिक, व्यापार और नौसैनिक सहयोग जारी है.

Loading...