भारतीय PM के दौरे को लेकर कारोबारियों में उत्साह, मोदीमय हुए UAE के अखबार

- in Main Slider, अन्तर्राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को दो दिनों के संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की यात्रा पर रहेंगे. पीएम मोदी की इस यात्रा को लेकर यूएई में रह रहे भारतीय कारोबारियों में खासा उत्साह देखा जा रहा है. वहीं, यूएई के तमाम अखबारों में भी मोदी छाए हुए हैं. यहां के अखबारों ने भारतीय पीएम के इस दौरे को दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों के लिए एक अहम कदम बताया है.

यूएई के अखबार ‘खलीज टाइम्स’ ने पीएम मोदी के दौरे को लेकर डिटेल कंटेंट छापा है. मोदी के दौरे को अखबार ने पहले पन्ने की लीड बनाई है. ‘UAE HAS THE AL EDGE’ हेडलाइन के साथ अखबार ने लिखा कि पीएम मोदी की यात्रा यूएई के लिए खास क्यों है?

अखबार ने लिखा- ‘राजनीतिक, आर्थिक और रणनीतिक संबंधों के क्षेत्र में भारत और यूएई के मज़बूत द्विपक्षीय संबंध हैं. चीन और अमरीका के बाद संयुक्त अरब अमीरात भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है. ऐसे में पीएम मोदी की यात्रा को यूएई व्यापारिक और आर्थिक क्षेत्र में एक और मजबूत कदम बढ़ाने के तौर पर देख रहा है.’

अखबार ने पेज नंबर 6 और 7 पर मोदी के दौरे को लेकर डिटेल कंटेंट दिया है. मोदी के पहले यूएई दौरे का जिक्र करते हुए अखबार लिखता है- ‘इस दूसरे दौरे से भारत-यूएई संबंधों में कई और उपलब्धियां जुड़ेंगी.’ बता दें कि व्यापार और वाणिज्य भारत-यूएई संबंधों की रीढ़ है और भारत के बहुत से कामगार वहां काम करते हैं. एक अनुमान के मुताबिक, 25 से 30 लाख भारतीय अमीरात में रहते हैं और उसके आर्थिक विकास में अपना योगदान दे रहे हैं.

अखबार ने 6 और 7 नंबर पेज के टॉप पर भारतीय राजनेताओं के यूएई दौरे की फोटोज छापी है. इसमें इंदिरा गांधी, मोरारजी देसाई, अटल बिहारी वाजपेयी, डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम, डॉ. मनमोहन सिंह, प्रतिभा देवी सिंह पाटिल, प्रणब मुखर्जी के अलावा अगस्त 2015 में मोदी की पहली यूएई यात्रा की तस्वीरें शामिल हैं. अखबार ने वहां के राष्ट्रपति खलीफा बिन जायद अल नहयान के साथ मोदी की कई फोटो लगाई है, जिसमें स्वागत संदेश लिखे हैं.

कैसा था पीएम मोदी का पहला यूएई दौरा?

पीएम मोदी ने अगस्त 2015 में यूएई का दो दिनों का दौरा किया था. इस दौरान उन्होंने यूएई के शीर्ष नेतृत्व से व्यापार और सुरक्षा जैसे आपसी सहयोग के मुख्य मुद्दों पर बातचीत की थी और वहां रहे भारतीय समुदाय को संबोधित किया था. वहीं, मोदी अबू धाबी में शेख जायद मस्जिद भी पहुंचे थे.

Loading...

इस बार यूएई दौरे पर क्या है मोदी का कार्यक्रम?

पीएम मोदी आज शाम को फिलिस्तीन से यूएई पहुंचेंगे. इस दौरे पर भारत और यूएई के बीच 12 समझौतों पर हस्ताक्षर होंगे. एक शीर्ष राजनयिक ने कहा कि तेल संपन्न यूएई और भारत परस्पर आर्थिक सहयोग और गहन करने के इच्छुक है. दोनों पक्षों के बीच वित्त और कौशल विकास जैसे क्षेत्रों में करार होने की संभावना है.

प्रधानमंत्री की इस यात्रा के दौरान रक्षा, सुरक्षा और आतंकवाद से लड़ाई जैसे मुद्दों पर सहयोग बढ़ाने को लेकर सहमति बनेगी. भारत में यूएई के राजदूत अहमद अल बन्ना ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी 10 फरवरी को यूएई की यात्रा पर जा रहे हैं. यह सरकारी यात्रा होगी और इस दौरान 12 समझौते किए जाएंगे.’’

अबू धाबी के पहले मंदिर का होगा शिला पूजन

अबू धाबी में मोदी रविवार को भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे. साथ ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अबू धाबी में बने पहले मंदिर का शिला पूजन भी होगा. गुजरात के स्वामीनारायण मंदिर जैसे यूके, यूएस, कैनेडा समेत दुनिया भर में 12 मंदिर हैं. बताया जा रहा है कि यूएई में बनने जा रहे मंदिर का नक्शा अक्षरधाम की तर्ज पर बनाया गया है.

इसलिए बन रहा मंदिर

दरअसल, 2015 में जब प्रधानमंत्री मोदी यूएई दौरे पर आए थे, तब प्रवासी भारतीयों ने मंदिर की मांग उठाई थी. इसलिए यह मंदिर बनाया जा रहा है. यह मंदिर थोड़ा छोटा जरूर होगा, लेकिन इसका आर्किटेक्चर न्यू जर्सी के मंदिर से मेल खाता है. इसमें लगने वाले पत्थर खासतौर से जयपुर से मंगवाए गए हैं.

Loading...