संसदीय दल की बैठक में राफेल डील पर भाजपा ने विपक्ष को जवाब देने की बनाई रणनीति

- in राजनीति

नई दिल्‍ली, एएनआइ। राफेल सौदे को लेकर बढ़ते विवाद के बीच आज भाजपा की संसदीय दल की बैठक आयोजित हुई, जिसमें कांग्रेस के आरोपों से निपटने की रणनीति पर चर्चा हुई। बैठक में भाजपा राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी राजनीतिक शैली अलोकतांत्रिक है। इसी वजह से पीएम नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान इस तरह की अड़चनें पैदा की गईं। बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने पत्रकारों को यह जानकारी दी।

 

अनंत कुमार ने यह भी कहा कि राफेल सौदे की मुख्‍य बातें बताई जा चुकी हैं और आगे भी बताई जाएंगी, लेकिन हर एक चीज को लेकर चर्चा करना देश हित में कितना उचित होगा? अमित शाह ने बैठक में यह बात कही। आपको बता दें कि बैठक में पीएम मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे। पीएम मोदी आज ही तीन देशों की यात्रा पर जाने वाले हैं।

 

Loading...

भाजपा की संसदीय दल की बैठक ऐसे समय में हुई है, जब बजट सत्र के दौरान संसद में पार्टी को राफेल सौदे को लेकर विपक्ष के भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इसके साथ ही कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी की हंसी पर पीएम मोदी और किरण रिजिजू की टिप्‍पणी को लेकर भी बवाल मचा हुआ है।

बता दें कि राहुल गांधी रॉफेल लड़ाकू विमान की खरीद को लेकर सरकार पर लगातार हमला बोल रहे हैं। इसको लेकर विपक्ष मोदी सरकार को घेरने में लगा हुआ है। हालांकि गुरुवार को लोकसभा में राफेल सौदे पर कांग्रेस के आरोपों का वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने करारा जवाब दिया था। उन्‍होंने पार्टी पर देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार साल तक स्वच्छ सरकार चलाई है और कांग्रेस के पास आरोप लगाने के लिए कुछ नहीं है, इसलिए वे भ्रष्टाचार के झूठे आरोप गढ़ रहे हैं।

राफेल विवाद पर जेटली ने कहा कि गोपनीयता रक्षा सौदे का अहम अंग होती है। जो जानकारी सार्वजनिक नहीं होनी चाहिए, ऐसी जानकारी मांग कर कांग्रेस पार्टी राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ कर रही है। वे ऐसी जानकारी मांग रहे हैं जो दुश्मन को पता नहीं चलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रक्षा सौदे की कीमतों की खुलासा होने पर उसमें सम्मिलित हथियारों की मारक क्षमता का आकलन भी किया जा सकता है।

Loading...