लखनऊ: सआदतगंज पुलिस को अपराधियों के खिलाफ मिली बड़ी सफलता, नौ वारंटियों को दबोचा

- in उत्तरप्रदेश, प्रदेश
40 कि‍लो सोना लूटकांड का आरोपी एसटीएफ कांस्‍टेबल अब हवाला कारोबार में पकड़ा गया है। एसटीएफ में रहने के दौरान वह करीब 40 एनकाउंटर में शामि‍ल था। लखनऊ में उसके पास 60 लाख रुपए का अालीशान फ्लैट है। इसमें हर तरह की सुख-सुवि‍धा और लग्‍जरी सामान मौजूद है। 9 लाख के कीमत की कार है। उसकी गिरफ्तारी के लि‍ए जब पुलि‍स ने रेड कि‍या तो उसकी शानो-शौकत देखकर दंग रह गई।
लखनऊ: सआदतगंज पुलिस को अपराधियों के खिलाफ मिली बड़ी सफलता, नौ वारंटियों को दबोचा
 हुआ था बर्खास्‍त…
 

Loading...
लखनऊ का रहने वाला सुशील पचौरी एसटीएफ में कांस्टेबल था। उस पर आरोप है कि‍ 2006 में उसने लखनऊ की जेल रोड पर दो कमांडो और दो दरोगा के साथ 40 किलो सोना लूट की वारदात को अंजाम दिया था। बाराबंकी में उसने पांच किलो सोना लूटा था। इसके बाद उसे बर्खास्‍त कर दिया गया था।  कोर्ट के आदेश पर वह दोबारा बहाल हुआ और सेल्स टैक्स विभाग में तैनात था।  
 
सट्टेबाजी में आया एटीएस के रडार पर   
– कांस्टेबल सुशील पचौरी मैच में सट्टा लगाने के मामले में पुलि‍स की रडार पर आया था।
– एटीएस मामले की छानबीन कर रही थी। इसी दौरान हवाला के जरिए बड़ी रकम के लेन-देन का भी खुलासा हुआ था।
– लखनऊ में पार्क अपार्टमेंट से पुलि‍स ने इसे गिरफ्तार किया।  
– उसने इस अपार्टमेंट के फ्लैट में कंप्यूटर और टेलीफोन की कई लाइन लगा रखी थी।
 
पुलि‍स की रेड टीम ने क्‍या देखा
 
कांस्टेबल सुशील पचौरी का परिवार लखनऊ के त्रिवेणी नगर में रहता है।  लखनऊ स्‍थि‍त महानगर के पार्क अपार्टमेंट में उसने करीब 60 लाख रुपए कीमत की फ्लैट खरीदी है। वह यहीं रहता था। उसे पकड़ने के लि‍ए पुलि‍स ने यहां रेड कि‍या। पुलि‍स की रेड टीम ने देखा कि‍ वहां करीब एक लाख रुपए कीमत की फ्रि‍ज, 70 हजार रुपए का लग्‍जरी बेड, 50 हजार के काटन, महंगे फर्नीचर और हर तरह की सुख-सुविधा की चीजें मौजूद थीं। 9 लाख रुपए कीमत की शिफ्ट डिजायर गाड़ी भी हाल में खरीदी थी। यह देख पुलि‍स वाले अब इस बात की जांच कर रहे हैं कि‍ एक कांस्‍टेबल के पद पर तैनात इस आरोपी के पास इतने पैसे कहां से आए कि‍ उसका लाइफ स्‍टाइल लग्‍जरी हो गया।
Loading...