सचिन की बेटी सारा का फर्जी ट्विटर अकाउंट बना किया इस नेता को अभद्र टिप्पणी, गिरफ्तार

मुंबई (एएनआई)। मुंबई के एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर को सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा तेंदुलकर का फर्जी ट्विटर अकाउंट बनाकर उसका गलत इस्तेमाल करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। बताया जाता है कि 39 वर्षीय नितिन शिशोदे नाम के सॉफ्टवेयर इंजीनियर को अंधेरी से गिरफ्तार किया गया है। जानकारी के मुताबिक, नितिन पर सारा तेंदुलकर का फर्जी ट्विटर अकाउंट बना एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने का आरोप है।

पुलिस कर रही पूछताछ

 

सूचना मिलने पर पुलिस लगातार उक्त आरोपी से पूछताछ कर रही है। पुलिस के मुताबिक, शिशोदे पर आईपीसी और आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए उसे 9 फरवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस ने बताया कि शिशोदे को मिलिट्री रोड स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया है। नितिन पेशे से इंजीनियर है और पुराने लैपटॉप को खरीद-फरोख्त का काम करता है।

यूं मामला सामने आया

दरअसल, सचिन तेंदुलकर के पीए ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई की सचिन की बेटी सारा के नाम से कोई अन्य ट्विटर अकाउंट बनाकर ट्विट्स कर रहा है। बता दें कि सारा अभी तक सोशल मीडिया प्लोटफॉर्म पर नहीं है। शिकायत में बताया गया कि सारा के फेक ट्विटर हैंडल से राजनीति गतिविधियों से जुड़े ट्विट किए गए जो काफी आपत्तिजनक और अभद्र थे। इतना ही नहीं इन्हें कई बार रिट्वीट भी किए गए। हालांकि बाद में यह स्पष्ट हो गया कि ये ट्विटर अकाउंट सारा की नहीं हैं, साथ ही उन्हें राजनीति में कोई दिलचस्पी भी नहीं है।

 

पहले भी हो चुकें हैं इस तरह के शिकार

पिछले साल अक्टूबर में भी सारा के फेक ट्विटर अकाउंट से एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार को निशाना साधते हुए एक विवादित ट्विट किया गया था। जिसमें उनपर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। जल्द ही ये ट्विट सोशल मीडिया पर बहस का मुद्दा बन गया था। हालांकि इसका पता चलते ही सचिन तेंडुलकर ने ट्विटर से बेटे अर्जुन और बेटी सारा के ऐसे सभी फेक अकाउंट हटाने की गुहार लगाई थी।

इसे लेकर एनसीपी के एक विधायक जितेंद्र अव्हड़ भड़क गए और इस मामले में सचिन से सफाई मांग ली। इसके बाद सचिन ने बेटी सारा की तरफ से मोर्चा संभाला और ट्विट करके सफाई दी कि इससे सारा और अर्जुन का कोई लेना-देना नहीं।

 

सारा के बचाव में आए सचिन

ट्विटर पर बेटे अर्जुन और बेटी सारा के फर्जी अकाउंट को लेकर सचिन तेंदुलकर परेशान हो गए और उन्होंने ट्विटर से ये फर्जी अकाउंट हटाने की अपील की थी। इतना ही नहीं सचिन ने ट्विट किया कि सारा और अर्जुन का ट्विटर पर कोई अकाउंट ही नहीं है। वहीं सचिन ने ऐसे फर्जी अकाउंट के साथ ही ऐसे ट्विट हटाने के लिए कहा कि जो किसी शख्स की छवि को नुकसान पहुंचाते हैं।

इसके बाद भी सचिन नहीं रुके, उन्होंने अपने ट्विट में ही लिखा कि सोशल मीडिया पर मौजूद यूजर्स को ऐसी परेशानी से दो-चार न होना पड़े, इसके लिए जरुरी सुधार किए जाने चाहिए।

Loading...
E-Paper