त्रिपुरा के CM माणिक शाह बोले-गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होना चाहिए उनका नाम…

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री डॉक्टर माणिक शाह ने ईच्छा जताई है कि उनका नाम गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होना चाहिए। उन्होंने कहा है कि देश में वे एकमात्र ऐसे व्यक्ति हैं जिनके पास पार्टी अध्यक्ष, विधायक, सांसद और मुख्यमंत्री जैसे महत्वपूर्ण चार.. चार पद हैं। इसलिए उनका नाम गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होना चाहिए।
त्रिपुरा के मेलागढ़ में अयोजित रथ यात्रा कार्यक्रम में श्री शाह ने यह बाते कहीं। राजनीति में प्राप्त पदों का विस्तार विवरण देते हुए उहोंने कहा कि मैं मुंबई में सौरव गांगुली के साथ मीटिंग कर रहा था। तभी एक फोन आया और मुझे बताया गया कि जल्दी आ जाए आप। मैंने बोला आज तो संभव नहीं है। अगली फ्लाइट से मैंने रिटर्न किया और मुझे बताया गया की फॉर्म भरना होगा। मैंने पूछा तो उन्होंने बताया की अध्यक्ष का फॉर्म भरना होगा। अध्यक्ष बना और अभी भी अध्यक्ष बना हुआ हूं। राज्यसभा सदस्य बनने का वृतांत बताते हुए उन्होंने कहा कि मुझे बताया गया की राज्यसभा का सदस्य बनना है, वो भी बना। मेरे मन सदैव से एक ईच्छा थी की मैं एक दिन विधायक बनूं। विधायक बन के मंत्री पद मिला तो भी ठीक है और नहीं मिला तो भी ठीक । राज्यसभा के समय मैंने केंद्रीय नेतृत्व से बोला मैं यहीं ( त्रिपुरा) में ठीक हूं। अब फिर से दिल्ली क्यूं जाना। उन्होंने बोला नहीं.. नहीं आपको बनना है। फिर मैंने वहां बंगाली में शपथ लिया और डारलॉन्ग समुदाय के ऊपर पास हुए बिल पर चर्चा किया। उस वक्त मैं मात्र 3 दिन का राज्यसभा सदस्य था। मुख्यमंत्री बनाए जाने के संदर्भ में डॉक्टर शाह ने कहा कि जब मुझे बताया गया कि आपको यहां ( त्रिपुरा) आना है मुख्यमंत्री बनना है। मैने बोला अरे क्या बात करते हैं। मैं तो कभी मंत्री ही नहीं बना मुख्यमंत्री क्या बनूंगा। फिर भी मुख्यमंत्री बन गया। अब मैं था एमपी मुख्यमंत्री। लेकिन मुझे एमएलए बनना था तो अपनी विधानसभा बारदोवाली से मैंने चुनाव लड़ा और अभी जीत भी गया। अब जितने के बाद मेरा नाम गिनीज़ बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया जा सकता है। मेरे पास चार.. चार पद है। पार्टी अध्यक्ष, एमएलए, एमपी और सीएम। इसलिए मेरा नाम गिनीज़ बुक में दर्ज होना चाहिए।
Loading...
E-Paper