लखनऊ के खिलाफ कोलकाता की हार,युवा बल्लेबाज रिंकू सिंह ने अपनी पारी से जीता फैंस का दिल

लखनऊ और कोलकाता की टीम जब आइपीएल 15 के अपने आखिरी लीग मैच में आमने-सामने आई तो रोमांच से भरे इस मैच में भले आखिरी गेद पर लखनऊ की टीम ने जीत दर्ज कर ली लेकिन कोलकाता के युवा बल्लेबाज रिंकू सिंह ने अपनी पारी से फैंस का दिल जीत लिया। 211 रनों का पीछा करते हुए कोलकाता की जीत की उम्मीद उस वक्त खत्म हो गई जब 17वें ओवर में आंद्रे रसेल आउट हो गए। रसेल के विकेट के बाद किसी ने नहीं सोचा था कि कोलकाता की टीम लक्ष्य के आस-पास भी पहुंच पाएगी।

लेकिन कोलकाता के युवा बल्लेबाज रिंकू सिंह के दिमाग में कुछ और ही चल रहा था और उनका साथ दिया सुनील नरेन ने, दोनों ने आखिरी 19 गेंदों पर 58 रन की विस्फोटक पारी खेलकर कोलकाता को एक वक्त मैच में जीत के करीब ले आए थे। लेकिन एविन लुइस के बेहतरीन कैच ने इनकी मेहनत पर पानी फेर दिया।

रिंकू सिंह की पारी-

रिंकू सिंह ने 15 गेंदों पर 40 रन की पारी खेलकर फैंस का दिल जीत लिया और कोलकाता के लिए असंभव दिख रहे जीत को एक उम्मीद दी। हालांकि वो अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके लेकिन उन्होंने अपनी पारी से सबका दिल जीत लिया। उन्होंने 40 रन की पारी में 2 चौके और 4 छक्के लगाए जिसमें से 2 छक्के तो उन्होंने आखिरी ओवर में लगाए जब टीम को 21 रनों की दरकार थी।

आइपीएल के इस सीजन में रिंकू सिंह

5 साल से अपनी बारी का इंतजार करने वाले रिंकू सिंह को इस बार श्रेयस अय्यर की कप्तानी में मौका मिला और उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से साबित कर दिया कि वो लंबी रेस के घोड़े हैं। उन्होंने इस सीजन में केवल 7 मैच खेले और 34.80 की औसत और 148.71 की स्ट्राइक रेट से 174 रन बनाए।

jagran

फैंस को भाया रिंकू का स्टाइल

लखनऊ के खिलाफ मैच को कोलकाता के कप्तान ने उनके करियर का सबसे बेस्ट मैच बताया। आखिरी गेंद तक चले इस मैच में रिंकू ने अपनी बल्लेबाजी से साबित कर दिया कि रिंकू है तो मूमकीन है।

Loading...
E-Paper