पीएम मोदी बोले- कांग्रेस के 70 वर्षों के पाप की सजा 1.25 करोड़ देशवासी हर दिन भोग रहे हैं

नई दिल्ली: लोकसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब दे रहे हैं. पीएम मोदी विपक्ष के आरोपों का जवाब भी दे रहे हैं. पीएम मोदी का भाषण शुरू होने से पहले विपक्षी सांसदों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. TDP सांसद बेल में आकर हंगामा करने लगे, हालांकि पीएम मोदी ने इसी शोर शराबे के बीच अपना भाषण शुरू कर दिया.

– पीएम ने कहा, अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार ने भी झारखंड, छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड के रूप में तीन राज्यों का बंटवारा किया था, लेकिन कोई विवाद नहीं हुआ था. कांग्रेस ने देश का विभाजन किया है.

– पीएम ने कहा, आजादी के 70 साल बाद भी एक दिन भी ऐसा नहीं जाता है जब उसकी सजा सवा सौ करोड़ देशवासियों को नहीं भुगतना पड़ता है.

– कांग्रेेेस ने चुनाव में लाभ के लिए आंध्र प्रदेश को तोड़ा है.

सभी बीजेपी सांसदों को सदन में रहने के लिए व्हिप जारी

बीजेपी ने अपने सदस्यों के लिए बुधवार को सदन में मौजूद रहने का व्हिप जारी किया है. सूत्रों ने बताया कि सरकार गुरूवार को कुछ महत्वपूर्ण विधेयक पेश कर सकती है. इस दौरान प्रधानमंत्री सरकार के बजट समेत तमाम नीतियों पर बयान दे सकते हैं. कहा जा रहा है कि राष्ट्रपति के अभिभाषण में आए ‘एक राष्ट्र- एक चुनाव’ पर खासा जोर रहने की भी उम्मीद है. इसके अलावा लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह गृह मंत्रालय से जुड़े सवालों का जवाब भी देंगे.

6 फरवरी को संसद के दोनों सदनों में विपक्ष ने जमकर हंगामा हुआ
उल्‍लेखनीय है कि 6 फरवरी संसद के दोनों सदनों में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया था. राज्यसभा में मंगलवार को तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सांसदों ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी द्वारा राज्य के कामकाज में कथित हस्तक्षेप को लेकर दिए गए अपने स्थगन नोटिस को सभापति द्वारा नामंजूर करने पर जोरदार हंगामा किया. सभापति एम. वेंकैया नायडू ने सदन की कार्यवाही में व्यवधान उत्पन्न किए जाने के कारण कार्यवाही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी. जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई, सभापति एम वेंकैया नायडू ने महत्वपूर्ण विधायी कामकाज पूरा किया और टीएमसी, तेदेपा और अकाली दल द्वारा दिए गए कई नोटिसों को खारिज कर दिया.

 
Loading...
E-Paper