भारत में मुसलमानों का क्या काम, पाकिस्तान या बांग्लादेश जाएं: विनय कटियार

नई दिल्ली: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय मुस्लिमों को पाकिस्तानी कहे जाने को दंडनीय अपराध घोषित करने की मांग पर बीजेपी के राज्यसभा सांसद विनय कटियार ने पलटवार किया है. न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में विनय कटियार ने कहा, जो लोग वंदे मातरम का सम्मान नहीं करते हैं और जो पाकिस्तानी झंडे को फहराते हैं उनपर कार्रवाई करने का बिल लाया जाना चाहिए.’ विनय कटियार ने यहीं नहीं रुके उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘मुसलमानों को इस देश में रहना ही नहीं चाहिए. उन्होंने जनसंख्या के आधार पर देश का बंटवारा कराया तो इस देश में रहने की क्या आवश्यकता है. उनको अलग भूभाग दे दिया गया है. बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं यहां क्या काम है उनका?

इससे पहले AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने मांग की है कि केंद्र सरकार ऐसा कानून बनाए, जिसमें भारतीय मुस्लिमों को ‘पाकिस्‍तानी’ कहे जाने को दंडनीय अपराध माना जाए. ओवैसी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में बहस में भाग लेने के दौरान यह मांग रखी. ओवैसी ने कहा कि कानून को अपराध के तीन साल तक कारावास की सजा देनी चाहिए. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार संसद में ऐसे बिल नहीं लाएगी. बता दें कि एआईएमआईएम प्रमुख ने ट्रिपल तलाक बिल को “महिला विरोधी” करार दिया था.

Loading...
E-Paper