कुमारस्वामी के भावुक भाषण पर BJP ने दिया ‘बेहतरीन एक्टर का अवॉर्ड’

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का हालिया बयान राज्य में जेडीएस और कांग्रेस की गठबंधन सरकार में दरार के साफ संकेत देती है. दरअसल कुमारस्वामी ने बेहद भावुक होकर कहा कि वह मुख्यमंत्री पद पर ‘खुश नहीं’ हैं और विषकंठ (भगवान शिव) की तरह जहर पी रहे हैं.

हालांकि इस बीच जेडीएस का कहना है कि गठबंधन में सबकुछ ठीकहै और सरकार पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करेगी. ऐसे में विपक्षी बीजेपी ने कुमारस्वामी पर कटाक्ष करते हुए उन्हें ‘शानदार अभिनेता’ करार दिया. बीजेपी ने आरोप लगाया कि कुमारस्वामी ‘आम लोगों को बेवकूफ बना रहे हैं.’

बीते 12 मई को हुए कर्नाटक विधानसभा चुनावों में कांग्रेस और जेडीएस एक-दूसरे के खिलाफ बयानबाजी की थी, लेकिन जब चुनाव परिणामों में खंडित जनादेश मिला तो दोनों ने मिलकर सरकार बना ली. पार्टी ने कुमारस्वामी की एक वीडियो क्लिप टैग करते हुए कहा, ‘हमारे देश ने प्रतिभावान अभिनेता पैदा किए हैं. उन अभिनेताओं ने अपने शानदार प्रदर्शन से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया. कुमारस्वामी के तौर पर हमारे यहां एक और शानदार अभिनेता है, ऐसा अभिनेता जिसने अपने गजब के अभिनय कौशल से आम लोगों को हमेशा मूर्ख बनाया है.’

बता दें कि जेडीएस की ओर से कुमारस्वामी के अभिनंदन के लिए शनिवार को आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भावुक हो उठे और नम आंखों से कहा, ‘आप सब खुश हैं कि आपका बड़ा या छोटा भाई मुख्यमंत्री बन गया है, लेकिन मैं खुश नहीं हूं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं विषकंठ (संसार को बचाने के लिए विष पीने वाले भगवान शिव) की तरह जहर पी रहा हूं.’

मुख्यमंत्री की आंखों से आंसू निकलते देख पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों की भीड़ ने बुलंद आवाज में कहा, ‘हम आपके साथ हैं.’ इस पर कुमारस्वामी ने कहा कि विधानसभा चुनावों से पहले उन्होंने लोगों से कहा था कि उन्हें मुख्यमंत्री बनाएं ताकि एक ऐसी जनसमर्थक सरकार बने जो किसानों, गरीबों और जरूरतमंदों की समस्याएं सुलझाए, ‘लेकिन उन्होंने मुझ पर यकीन नहीं दिखाया.’

कुमारस्वामी ने कहा कि पूरे राज्य के दौरे के दौरान लोगों ने उन्हें काफी स्नेह दिया, लेकिन वोटिंग के वक्त जेडीएस और उसके उम्मीदवारों को भूल गए. हालांकि कुमारस्वामी की इस टिप्पणी को जेडीएस महासचिव और पार्टी प्रवक्ता दानिश अली ने तवज्जो न देने की कोशिश करते हुए दावा किया कि यह महज एक भावुक आवेग था और मीडिया में मौजूद कुछ लोग इसका बहुत कुछ मतलब निकाल रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस के बीच कोई तनाव नहीं है.

अली ने आरोप लगाया कि राज्य में विपक्षी भाजपा गठबंधन सरकार को कमजोर करने की कोशिश कर रही है। उधर उप-मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता जी परमेश्वर ने भी कुमारस्वामी के बयान को ज्यादा तवज्जो नहीं दी. उन्होंने आज पत्रकारों से यहां कहा, ‘वह ऐसा कैसे कह सकते हैं… वह निश्चित तौर पर खुश हैं. मुख्यमंत्री को हमेशा खुश रहना पड़ता है. अगर वह खुश हैं तो हम सब खुश रहेंगे.’ 

E-Paper