अमित शाह ने कहा- भाजपा कर रही अंत्योदय के सिद्धांत पर काम

आगरा। भाजपा  के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा अंत्योदय के सिद्धांत पर काम करती है। उन्होंने सूरसदन में प्रबुद्धजनों के बीच केंद्र सरकार के चार साल का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से नेहरू-गांधी परिवार की चार पीढ़ी का हिसाब मांगा। सपा और बसपा की पूर्व सरकारों को आड़े हाथ लेते हुए प्रबुद्धजनों से कहा कि वे विपक्षियों से महागठबंधन का सिद्धांत पूछें। साथ ही जनमानस में भाजपा के लिए चुनावी माहौल बनाने का काम करें। 

अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति का विकास 

प्रबुद्धजन सम्मेलन में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने देश का राजनीतिक दृश्य बताते हुए कहा कि देश में 1650 राजनीतिक पार्टियां हैं, ये परिवार और जाति की राजनीति करती हैं। इनका विकास भी परिवार और जाति विशेष के लिए होता है। मगर, भाजपा का लक्ष्य अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति का भी विकास करना है। उन्होंने कहा कि 2013 से पहले 10 साल यूपीए की सरकार रही। इस दौरान 12 लाख करोड़ के घोटाले हुए। महंगाई, बेरोजगारी, सीमा पर जवानों के शव को अपमानित किया गया।

दुनिया में भारत की छवि खराब होती गई। देश में हताशा, निराशा और आक्रोश का माहौल था। इन हालात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2014 में 30 साल के बाद पूर्ण बहुमत की सरकार बनी। कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक से जवानों की मौत का बदला लेने वाले देशों में अमेरिका, इजरायल के बाद भारत भी शामिल हो गया है। दावोस आर्थिक सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी ने हिंदी में संबोधित कर कीर्तिमान रचा। 

सरकार की तुलनात्मक स्टडी करें

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास की राजनीति के लिए दुर्जनों से ज्यादा प्रबुद्धजनों की चुप्पी से खतरा है। वे अपनी चुप्पी तोडं, सरकार की तुलनात्मक स्टडी करें। इसकी सोशल मीडिया, मीडिया के माध्यम से प्रचारित करेंं। सम्मेलन में योगी ने कहा कि विपक्षियों ने देश को जाति, क्षेत्र, भाषा, सम्प्रदाय के नाम पर बांट दिया। उन्होंने कहा कि 1950 में 10 कार्यकर्ताओं से शुरुआत करने वाली भाजपा के अब दुनिया में 11 करोड़ कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को कौशल विकास का प्रशिक्षण देकर रोजगार दिलवाया जा रहा है। राष्ट्रवाद, विकास और सुशासन की राजनीति की जा रही है।

आइटी सेल बूथ स्तर तक होगी सक्रिय

प्रबुद्धजन सम्मेलन से पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक होटल में तीन क्षेत्रों के पदाधिकारियों और आइटी विभाग के साथ बैठक की। इसमें उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि सोशल मीडिया पर छा जाओ। दुष्प्रचार के खिलाफ कार्रवाई करो और जन लाभकारी योजनाओं का प्रचार करो। चुनाव से पहले हर बूथ तक आइटी विभाग को सक्रिय हो जाने के निर्देश भी उन्होंने दिए।

Loading...
E-Paper